समाधान योजना में डिफाल्टर किसानों को भी मिलेगा जीरो फीसदी ब्याज पर ऋण

www.krishakjagat.org
Share

(विशेष प्रतिनिधि)
भोपाल। मध्य प्रदेश के 7 लाख से अधिक डिफॉल्टर किसानों को नए सिरे से बिना ब्याज लोन देगी। इसके लिए शीघ्र ही समाधान योजना लागू की जाएगी। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने गत दिनों विधानसभा में यह घोषणा की। उन्होंने कहा कि किसानों के बेटे- बेटियों को 10 लाख से लेकर 2 करोड़ रुपए तक का लोन उपलब्ध कराया जाएगा। 15 फीसदी अनुदान के साथ यह लोन कृषि से जुड़े व्यवसाय या उद्योगों के लिए होगा। इस पर पांच साल तक ब्याज में सब्सिडी भी मिलेगी।

सीएम ने विधानसभा में शहीदों के परिजनों को दी जाने वाली सहायता राशि 25 लाख रुपए से बढ़ाकर एक करोड़ करने की भी घोषणा की। मंदसौर गोलीकांड और किसानों की समस्याओं पर आए स्थगन प्रस्ताव पर जवाब देते हुए मुख्यमंत्री ने बताया कि राज्य के 72 प्रतिशत किसान समय पर लोन चुका रहे हैं। लेकिन जो डिफाल्टर हैं, उनके लिए सरकार किसान ऋण समाधान योजना लागू कर रही है।
कृषि विपणन एवं मूल्य निर्धारण आयोग उत्पाद की लागत तय करने के अलावा यह सुनिश्चित करेगा कि किसानों को लाभकारी मूल्य मिले। सभी शहरों में किसान बाजार बनेंगे ताकि किसान सीधे अपने उत्पाद सीधे बेच सके।
किसानों को रबी और खरीफ की फसल के लिए एकमुश्त लोन दिया जाएगा। मुख्यमंत्री ने कहा कि दोनों सीजन के लिए अलग- अलग लोन देने से किसानों को परेशानी हो रही थी। इसलिए दोनों फसलों के लिए एकमुश्त लोन देने का फैसला लिया है।
मुख्यमंत्री ने कहा कि अब किसानों से सरकार फसल नहीं खरीदेगी। बल्कि बाजार मूल्य और समर्थन मूल्य के अंतर की राशि सीधे किसान के खाते में ट्रांसफर की जाएगी।

www.krishakjagat.org
Share
Share