मैं पुदीना लगाना चाहता हूं , कृपया लगाने की विधि बतायें।

समाधान– पुदीना एक गुणकारी औषधि फसल है इससे पीपरमेन्ट भी बनाया जाता है जो कि बहुत कीमत देता है। आप पुदीना लगाये, लाभ कमायें।

  • यह सभी प्रकार की जलवायु/भूमि में पैदा किया केवल पहाड़ी बर्फीली भूमियों को छोड़कर।
  • इसका प्रवर्धन कलमों तथा कलम कटिंग से होता है।
  • मार्च/अक्टूबर दोनों माह लगाने के लिये उपयुक्त है। कतार से कतार 20 से.मी. तथा पौध से पौध 5 से.मी. की दूरी रखी जाये।
  • एक हेक्टर क्षेत्र के लिये 250 किलो कटिंग पर्याप्त होती है।
  • इसे सतत नमी की आवश्यकता होती है। गोबर की खाद डालकर लगाने से अच्छा उत्पादन मिल जाता है थोड़ी मात्रा में यूरिया की टाप ड्रेसिंग से अधिक पत्तियां प्राप्त की जा सकती हैं।
  • खेत में खरपतवार निकालकर भूमि के पोषक तत्वों का पूरा लाभ पुदीना को उपलब्ध कराया जा सकता है।
  • पहली कटाई रोपाई के 105 दिनों बाद तथा दूसरी उसके 90 दिनों बाद की जाये।
  • भूमि में 9-10 से.मी. छोड़कर ऊपर से कटाई की जाये ताकि फसल दोबारा विकसित हो सके।

– जयराम चौधरी, गंजबासोदा

www.krishakjagat.org
Share