समस्या – मैंने अंगूर लगाये हैं फलों के गुच्छों पर सफेद कीट नजर आ रहे हैं, उपचार से अवगत कराये।

www.krishakjagat.org
Share

– गुलाब राय, शाजापुर
समाधान– आपके फलों पर मिलीबग नामक कीट का प्रकोप हो गया है यह कीट कपास में भी आता है और इसके अलावा अन्य फल, सब्जी तथा खाद्यान्नों पर भी असर कर रहा है। आप ध्यान से देखें तो पत्तियों,शाखाओं और मुख्य तनों पर भी गुच्छे इस कीट के पायेंगे। ये छोटे-छोटे कीट पौधों का रस चूसते हैं तथा एक चिकना पदार्थ छोड़ते हैं। जिस पर फफूंदी अपना बसेरा कर लेती है सबसे अधिक नुकसान फलों के गुच्छों पर होता है। इस कीट का विस्तार चीटिंयों के द्वारा होता रहता है। वैसे तो वर्ष भर इसका प्रकोप होता है परंतु जून से अगस्त तथा नवम्बर से मार्च में सबसे अधिक विस्तार होता है।

  • मिलीबग से ग्रसित बेला, अंगूर के गुच्छे, पत्ते तथा शाखाओं को काटकर नष्ट कर दें, फेंके नहीं तनों पर चिकनाई लगा दें (ग्रीस) ताकि मिली बग के शिशु ऊपर चढऩे में नाकाम रहें।
  • आसपास चीटियों के घरों को नष्ट करेें ताकि चीटियों द्वारा मिलीबग के विस्तार पर पाबंदी लग सके।
  • डायक्लोरोफास 2 मि.ली. फिश आईल, 2 मि.ली.+ मिथोमिल 2 ग्राम, क्लोरोपाईरीफास 2 मि.ली. को एक साथ मिलाकर प्रति लीटर पानी में घोल बनाकर शाखाओं पर छिड़काव करें।
  • विवेरिया बेसियाना परजीवी फफूंद 5 ग्राम /ली. पानी में घोल बनाकर 15 दिनों के अंतर से दो छिड़काव करें।
www.krishakjagat.org
Share
Share