जलवायु परिवर्तन से सोयाबीन फसल में अनुकूलन कैसे करें ताकि सोयाबीन फसल फायदे का सौदा बन पाये।

समाधान- जलवायु परिवर्तन से सोयाबीन के उत्पादन में बहुत अधिक अन्तर नहीं आने वाला है। यह एक व्यापक फसल है जिसे विभिन्न जलवायु में उगाया जाता है। प्रदेश में इस फसल के उत्पादन में पिछले कुछ वर्षों में आई कमी का मुख्य कारण हमारा लगातार 30-35 वर्षों से कोई फसल चक्र न अपनाकर खरीफ में सोयाबीन लेना मुख्य कारण है। यदि भविष्य में हमें सोयाबीन को फायदे का ही सौदा बनाये रखना है तो हमें खरीफ में भी फसल चक्र अपनाना होगा।

– आर.एस. दुबे

www.krishakjagat.org
Share