टैगपॉली से खेत हुआ हरा-भरा

www.krishakjagat.org

भोपाल। जिला पन्ना के ग्राम टौराह के श्री कामता प्रसाद साहू की चने की फसल प्रथम सिंचाई के बाद सूखने लगी थी। श्री साहू ने कई जगह संपर्क के बाद ट्रॉपिकल एगो सिस्टम प्रा.लि. के अधिकारियों से संपर्क किया। उन्होंने फसल के निरीक्षण के बाद कम्पनी के जैविक उत्पाद टैगपॉली व ह्यूमासिड का स्प्रे करने की सलाह दी। श्री साहू बताते हैं कि स्प्रे के बाद फसल में आश्चर्यजनक रूप में सुधार हुआ और अब चने की फसल इस क्षेत्र की सबसे अच्छी फसल है। मेरी फसल देखकर अब अन्य किसान मुझसे दवा का नाम पूछने लगे हैं। इसी प्रकार जिला नरसिंहपुर के ग्राम पांसी के श्री नर्मदा प्रसाद पटेल अपनी गन्ने की फसल में ट्रॉपिकल के जैविक उत्पादों नैनोफॉस, नैनो पोटाश, फिलअप, गोल्ड बायोनिक, टॉपअप, नासा का विभिन्न स्तरों पर उपयोग किया। परिणामस्वरूप उन्हें गन्ने का भरपूर उत्पादन मिला। उनके गांव में अन्य किसानों ने भी इस वर्ष गन्ने की फसल में ट्रॉपिकल उत्पादों का उपयोग प्रारंभ कर दिया है।

FacebooktwitterFacebooktwitter
www.krishakjagat.org
Share