भारत में ट्रैक्टर उद्योग के लिए अपार अवसर : श्री रमन मित्तल

63,205 ट्रैक्टरों की बिक्री के साथ 15.8 प्रतिशत वृद्धि दर्ज

नई दिल्ली। सोनालीका ट्रैक्टर्स (आईटीएल) ने अप्रैल से दिसम्बर की अवधि में 63,205 ट्रैक्टर बेचे और पिछले साल की समान अवधि के मुकाबले 15.8 फीसदी की वृद्धि दर्ज की। इस अवधि में कंपनी ने 9,233 ट्रैक्टरों का निर्यात किया। दिसम्बर महीने में बिक्री 10.7 फीसदी बढ़कर 4,516 ट्रैक्टर हो गई जो पिछले वर्ष की समान अवधि में 4,080 ट्रैक्टर थी। कंपनी वित्त वर्ष 2018 में अपनी वृद्धि दर को बनाए रखने को लेकर आशावान है।
वृद्धि के बारे में श्री रमन मित्तल, कार्यकारी निदेशक, सोनालीका आईटीएल ने कहा, ‘इस वर्ष अच्छे मानसून की वजह से ट्रैक्टर उद्योग में तेजी देखने को मिली जहां सोनालीका ने अप्रैल-दिसम्बर अवधि में 15.8 फीसदी की वृद्धि दर्ज की और बाजार हिस्सेदारी में इजाफा किया। दिसम्बर 2016 में सुधार देखने को मिला जब उद्योग ने 7.7 फीसदी से अधिक वृद्धि दर्ज करनी शुरू की और हम उद्योग के मुकाबले अधिक तेजी से 18 फीसदी की दर से बढ़ते रहे।

भारत के ट्रैक्टर क्षेत्र में असीम संभावनाओं को भुनाने की सोनालीका की रणनीति के बारे में श्री मित्तल-‘भारत में ट्रैक्टर उद्योग के लिहाज से अपार अवसर हैं क्योंकि प्रति 1,000 हेक्टेयर पर 20 ट्रैक्टरों की उपलब्धता काफी कम है। जहां भारत में 6,70,000 गांव हैं वहीं उद्योग की बिक्री का आंकड़ा प्रति वर्ष प्रति गांव एक बिक्री से आगे नहीं बढ़ पाता है, ऐसे में वृद्धि की अपार संभावनाएं हैं। बदलाव का प्रमुख वाहक होने के नाते नीति आयोग 2022 तक किसानों की आय दोगुनी करने की दिशा में काम कर रहा है, सोनालीका में हम इस दृष्टिकोण की दिशा में लगातार काम कर रहे हैं।

 

www.krishakjagat.org
Share