कृषि और किसान को विकसित करने की जरूरत

बीज उत्पादन कार्यक्रम लेने वाले कृषकों को भी मिलेगा – कृषक समृद्धि योजना का लाभ

भोपाल। मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान की अध्यक्षता में हुई मंत्रि परिषद की बैठक में बीज उत्पादन कार्यक्रम लेने वाले कृषकों को भी मुख्यमंत्री कृषक समृद्धि योजना का लाभ देने का निर्णय लिया गया। योजना के तहत रबी वर्ष 2017-18 में गेहूँ बीज के लिए रूपये 265 प्रति क्विंटल तथा चना, मसूर व सरसों बीज के लिए 100 रूपये प्रति क्विंटल प्रोत्साहन राशि का कृषको के खाते में सीधे भुगतान होगा।

मंत्रिपरिषद के निर्णय

सिंचाई परियोजना : मंत्रि-परिषद ने मुरैना जिले की आसन बैराज मध्यम सिंचाई परियोजना के लिए कृषकों को विशेष पुनर्वास पैकेज का लाभ दिये जाने का निर्णय लिया। बैतूल जिले की गढ़ा सिंचाई परियोजना के कुल सैंच्य क्षेत्र 8500 हेक्टेयर के लिए 307 करोड़ 52 लाख रूपये की स्वीकृति प्रदान की गई।
इसी क्रम में सीहोर जिले की सनकोटा सिंचाई परियोजना के कुल सैंच्य क्षेत्र 5000 हेक्टर के लिए 154 करोड़ 85 लाख रूपये तथा सीहोर जिले की ही मोगराखेडा़ सिंचाई परियोजना के कुल सैच्य क्षेत्र 4000 हेक्टर के लिए 105 करोड़ 72 लाख रूपये की मंजूरी दी।
भूमि आवंटन : जवाहरलाल नेहरू कृषि वि.वि. जबलपुर के बोहानी जिला नरसिंहपुर में गन्ना अनुसंधान केन्द्र के लिए 31.526 हेक्टेयर भूमि आवंटन का निर्णय भी लिया गया।

www.krishakjagat.org
Share