कस्टम हायरिंग से जुड़ते कृषक

www.krishakjagat.org

सतना। किराये पर अत्याधुनिक कृषि यंत्रों का सुगमता से मिलना एवं उसके उपयोग से समय श्रम की बचत कर किसान कृषि उत्पादन बढ़ाने में कृषि अभियांत्रिकी की योजना कस्टम हायरिंग सेंटर को वरदान मान रहे हैं। सतना जिले के रामपुर बाघेलान विकासखंड के ग्राम घटबेलवा की महिला कृषक श्रीमती रीता सिंह पत्नी श्री प्रियव्रत सिंह ने इस योजना के अंतर्गत जीरो टिलेज, सीडकम फर्टिलाइजर्स ड्रिल, रेज्डवेड प्लांटर एवं रोटासीडर अन्य कृषकों को किराये पर उपलब्ध किये जा रहे हैं। स्वयं के खेत पर इन यंत्रों का प्रयोग एवं किराये पर दिये जाने से अतिरिक्त आमदानी श्रीमती रीता सिंह को हो रही है। स्ट्रारीपर से  अप्रैल माह में 205 ट्रॉली भूसा तैयार किया गया जिस पर रु. 205000/- व्यय हुए एवं आमदानी हुई। रु. 328000/-, शुद्ध लाभ रु.123000/- हुआ। इसी प्रकार रीपर कम बाइन्डर से गेहूं फसल काटी गई। जिसका प्रति घंटा कटाई पर व्यय रु. 500/-आय रु.1200/- प्रति घंटा, इस प्रकार 165 घंटे किये कार्य में शुद्ध आय रु.115500/- हुई है। कृषि अभियांत्रिकी की कस्टम हायरिंग योजना अत्यंत कारगर सिद्ध हो रही है।

FacebooktwitterFacebooktwitter
www.krishakjagat.org
Share