बंद पड़े कैलारस शक्कर कारखाने को फिर शुरू करने की कवायद

www.krishakjagat.org

भोपाल। मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि मुरैना जिले के कैलारस सहकारी शक्कर कारखाने के संबंध में क्षेत्रीय विधायक और संभागायुक्त किसानों से चर्चा कर सहमति बनायें। इसके बाद इस सहकारी शक्कर कारखाने को पुन: शुरू करने के लिये कार्रवाई की जाये। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने यह निर्देश बैठक में दिये। बैठक में वित्त मंत्री श्री जयंत मलैया भी उपस्थित थे।
बैठक में बताया गया कि यह सहकारी शक्कर कारखाना वर्ष 2011-12 से बंद है। क्षेत्रीय किसानों ने इसे फिर शुरू कराने की माँग की है। सहकारिता विभाग ने बताया कि इसे फिर शुरू करने के लिये खाद्य प्रसंस्करण विभाग को देकर निजी क्षेत्र में देना होगा। इसके साथ ही सदस्य किसानों के गन्ना उत्पादन को लेने को प्राथमिकता दी जायेगी। राष्ट्रीय गन्ना कारखाना संघ ने सुझाव दिया है कि इस कारखाने को पुन: चलाने के लिये इसकी क्षमता बढ़ाना होगी तथा यहाँ 12 मेगावॉट का विद्युत संयंत्र स्थापित करना होगा जिसमें करीब 96 करोड़ रुपये की लागत आयेगी।

FacebooktwitterFacebooktwitter
www.krishakjagat.org
Share