अधिकार संपन्न पंचायतों से होगा सशक्त राष्ट्र का निर्माण

www.krishakjagat.org
Share

इंदौर। राष्ट्रीय पंचायती राज दिवस के मौके पर गत दिनों क्षेत्रीय प्रचार निदेशालय और ग्राम पंचायत तिल्लोर के संयुक्त तत्वावधान में सशक्त पंचायत – सशक्त राष्ट्र विषय पर स्मार्ट विलेज तिल्लौर में एक संगोष्ठी आयोजित की गई। इस संगोष्ठी में सभी वक्ताओं का मत था कि पंचायतों को अधिकाधिक अधिकार दिए जाएं ताकि ग्रामीण विकास की सभी योजनाओं का क्रियान्वयन सुनियोजित तरीके से हो सकेगा। देश की 70 प्रतिशत से अधिक आबादी आज भी ग्रामीण क्षेत्रों में ही निवास करती है और ग्राम पंचायतें इन ग्रामीणों की एक प्रतिनिधि संस्था है। इस संस्था को और अधिकार संपन्न किया जाना जरूरी है तभी सशक्त राष्ट्र का निर्माण हो सकेगा। उन्होंने वित्तीय अधिकार देने की भी वकालत की ताकि छोटी छोटी जरूरतें स्थानीय स्तर पर ही पूरी हो सके। ग्राम पंचायत तिल्लौर के सरपंच श्री भीलू सिंह गहलोत कार्यक्रम के मुख्य अतिथि थे। सहकारी समिति के अध्यक्ष श्री रमेश पाटीदार ने अध्यक्षता की। कार्यक्रम में उप सरपंच श्री राधेश्याम जिराती के अलावा श्री परमानंद खरसमदे, श्री आशीष गवला, श्री गुरुप्रसाद पाटीदार सहित अनेक ग्रामीण जन मौजूद थे।
क्षेत्रीय प्रचार निदेशालय इंदौर के सहायक निदेशक मधुकर पवार ने राष्ट्रीय पंचायती राज दिवस पर सभी ग्रामीणों और पंचायत के जन प्रतिनिधियों को बधाई देते हुये इस दिवस को मनाने के उद्देश्य की जानकारी दी। उन्होंने बताया कि भारत सरकार ने पंचायतों को सशक्त बनाने के लिए अनेक कदम उठाये हैं।  सरपंच श्री भीलू सिंह गहलोत ने बताया कि पंचायत में बायोमेट्रिक मशीन लगा दी गई है जिसमें पंचायत से संबंधित सभी जनप्रतिनिधि और कर्मचारी अपनी उपस्थिति दर्ज कराते हैं। कार्यक्रम का संचालन क्षेत्रीय प्रचार सहायक किशोर गाठिया ने किया। पंचायत के सचिव श्री नागर ने आभार माना।

www.krishakjagat.org
Share
Share