किसानों की आमदनी दुगनी करने में

www.krishakjagat.org

कृषि यंत्र की अहम भूमिका

इंडोफार्म के चीफ ऑपरेटिंग ऑफीसर अंशुल खड़वालिया

भोपाल। भारतीय किसान को 2020 तक आय दुगुनी करने के लक्ष्य को प्राप्त करने में कृषि यंत्रों की महत्वपूर्ण भूमिका होगी। इसलिए ट्रैक्टर निर्माण की भारतीय कम्पनी इण्डोफार्म इक्विपमेंट लि. ने भी भारतीय किसानों को अत्याधुनिक तकनीक से निर्मित ट्रैक्टर उपलब्ध कराने का लक्ष्य बनाया है। किसानों को इण्डोफार्म ट्रैक्टर सुगमता से उपलब्ध कराने के लिए कम्पनी ने स्वयं की नॉन बैंकिंग फाइनेंस कम्पनी बरोटा फाइनेंस लिमिटेड भी प्रारंभ की है जिसके माध्यम से किसानों को त्वरित गति से वित्तीय सहायता के साथ आसान शर्तों पर इण्डोफार्म ट्रैक्टर उपलब्ध कराये जा रहे हैं। यह जानकारी इण्डोफार्म इक्विपमेंट लि. के चीफ आपरेटिंग ऑफीसर श्री अंशुल खड़वालिया ने कृषक जगत को दी। वे विगत दिनों भोपाल प्रवास पर थे। अपने प्रवास के दौरान उन्होंने इण्डोफार्म के विक्रेताओं व अधिकारियों के साथ बैठक कर भविष्य की विपणन रणनीति पर चर्चा की। इस अवसर पर बरोटा फाइनेंस के चीफ एक्जीक्यूटिव ऑफीसर श्री सुमित मुखर्जी, इंडोफार्म के रीजनल मैनेजर (म.प्र.) श्री पंकज अयाचित, क्षेत्रीय प्रबंधक श्री विक्रम सिंह भी उपस्थित थे।

श्री अंशुल खड़वालिया

इंडोफार्म इक्विपमेंट लि. के फार्मिंग डिवीजन के बिक्री एवं विपणन की पूरी तरह से कमान संभाल रहे श्री अंशुल खड़वालिया इंग्लैंड की एस्टन यूनिवर्सिटी से बिजनेस आपरेशंस एंड मार्केटिंग में स्नातक हैं। अपने लक्ष्यों के प्रति दृढ़ एवं स्पष्ट हैं। पंजाब सरकार द्वारा यंग अचीवर अवॉर्ड, टॉप 30, अंडर 30 अवॉर्ड, बांड एक्सीलेंस अवॉर्ड, वल्र्ड बांड कांग्रेस एशिया आदि संस्थाओं द्वारा विशिष्ट उपलब्धियों के लिए आपको सम्मानित किया गया है।

श्री अंशुल खड़वालिया ने बताया कि इंडोफार्म का लक्ष्य किसान को श्रेष्ठ तकनीक के साथ विश्वस्तरीय क्वालिटी उत्पाद उपलब्ध कराना है। इसको दृष्टिगत रखते हुए कंपनी द्वारा इंडोफार्म ट्रैक्टर में एक्साईड, बॉश, एनबीसी जैसी श्रेष्ठ स्पेयर पार्ट्स बनाने वाली कंपनियों के प्रोडक्ट ही लगाए जाते हैं। उपरोक्त कंपनियों के साथ अपना जुड़ाव दर्शाने के लिए डीलर्स मीटिंग में विभिन्न कंपनियों के लोगो भी डिस्प्ले किए गए थे।

  • 22 से 90 एचपी इंडोफार्म ट्रैक्टर मॉडल श्रृंखला
  • बरोटा फाइनेंस से आसान ऋण उपलब्ध
  • इण्डोफार्म में 30 प्रतिशत कलपुर्जे स्वदेशी
  • ख्याति प्राप्त निर्माताओं द्वारा निर्मित कलपुर्जे
  • इंडोफार्म ट्रैक्टर निर्माण क्षमता 12000 प्रति वर्ष
  • 300 डीलर्स का विस्तृत संजाल
  • 30 देशों में इण्डोफार्म ट्रैक्टर का निर्यात

श्री खड़वालिया ने बताया कि हिमाचल प्रदेश के बददी औद्योगिक क्षेत्र स्थित इण्डोफार्म ट्रैक्टर निर्माण संयंत्र को अत्याधुनिक मशीनों से सुसज्जित कर 4 व्हील ड्राइव ट्रैक्टर का निर्माण प्रारंभ किया गया है। उन्होंने बताया कि कम्पनी बिक्री पश्चात बेहतर सेवा देने के लक्ष्य को ध्यान में रखते हुए किसानों को डोर स्टेप सर्विस सेवा दे रही है।
श्री सुमित मुखर्जी ने चर्चा के दौरान बताया कि बरोटा फाइनेंस के अंतर्गत किसानों के के लिए ऋण की किश्तों को इस तरह बनाया गया है कि उपज आने पर किसान को एकदम से किश्त चुकाने का भार न आये। उन्होंने कहा कि किसानों की आय दुगनी करने के लिए कृषि उपज के मूल्य संवर्धन पर ध्यान देना होगा। आमदनी में वृद्धि के लिए किसानों को प्रीसिजन फार्मिंग, वेल्यू एडीशन पर भी ध्यान होगा। साथ ही किसान को भी इण्टर क्रॉपिंग पद्धति अपनानी होगी। इसमें आधुनिक कृषि यंत्र किसान के लिए मददगार साबित होंगे। श्री मुखर्जी ने बताया कि बरोटा फाइनेंस शीघ्र ही कृषि यंत्रों को भी फाइनेंस करना प्रारंभ करेगी।

आरसीएफ नये परिसर में

भोपाल। राष्ट्रीय केमिकल्स एंड फर्टिलाइजर्स का क्षेत्रीय कार्यालय नये परिसर में स्थानान्तरित हो गया है। नये परिसर का पता- हाउस नं. 115, जी-2, गुलमोहर, ई-8, अरेरा कॉलोनी है।

FacebooktwitterFacebooktwitter
www.krishakjagat.org

Leave a Reply

 Click this button or press Ctrl+G to toggle between multilang and English

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Share