किसानों को भविष्य के कृषि समाधान उपलब्ध कराने में सहयोगी

www.krishakjagat.org

सोनालीका का नये इनोवेशन केन्द्र में निवेश

सोनालीका ने मई 2018 में 16.5 प्रतिशत की शानदार बढ़त दर्ज की

(नई दिल्ली कार्यालय)
नई दिल्ली। देश के सबसे युवा और 4 देशों में नंबर 1 ट्रैक्टर ब्रांड सोनालीका इंटरनेशनल ट्रैक्टर्स लिमिटेड (आईटीएल) राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र (एनसीआर) में नया इनोवेशन (आरएंडडी) केंद्र स्थापित करने के लिए 200 करोड़ रुपये निवेश कर रही है। यह नया प्लांट प्रौद्योगिकी सुधार, नए उत्सर्जन नियमों और उत्पाद विकास साइकल को कम कर नवोन्मेषी कृषि समाधानों की पेशकश करने में मदद करेगा।

  • मई 2018 में 9714 ट्रैक्टरों की बिक्री
  • 2023-24 तक 2 लाख ट्रैक्टरों का लक्ष्य है।

कंपनी दुनिया के नंबर 1 सबसे बड़े एकीकृत ट्रैक्टर संयंत्र में नवीनतम प्रौद्योगिकियों और मशीनों को बेहतर बनाने के लिए 250 करोड़ रुपये का निवेश कर रही है। कंपनी ने मई 2018 के महीने में कुल 9714 ट्रैक्टरों की बिक्री दर्ज की है जो कि पिछले साल की इसी अवधि में दर्ज 8335 ट्रैक्टरों की तुलना में 16.5 प्रतिशत की शानदार बढ़त है।
नए आरएंड डी संयंत्र के बारे में श्री रमन मित्तल, कार्यकारी निदेशक, सोनालीका समूह ने कहा, दिल्ली एनसीआर में नया इनोवेशन केंद्र लगातार नवोन्मेषी और प्रौद्योगिकी के लिहाज से बेहतर है। यह 2023-24 तक 2 लाख ट्रैक्टर्स की बिक्री करने के हमारे नए लक्ष्य की दिशा में पहला कदम है। कृषि मैकेनाइजेशन समाधान में किसानों की मांग को पूरा करने के लिहाज से हम इस नए संयंत्र के लिए 150 से अधिक क्षेत्र विशेषज्ञों को भर्ती कर रही हैं।
उन्होंने कहा, भविष्य को ध्यान में रखकर वैश्विक इनोवेशन और आर एंड डी केंद्र की स्थापना दुनिया के मानचित्र में एक वैश्विक आर एंड डी केंद्र के तौर पर भारत की तेज वृद्धि की दिशा में एक महत्वपूर्ण कदम है। पूरी दुनिया में इनोवेशन केंद्र (आरएंडडी), दुनिया के नंबर 1 सबसे बड़े एकीकृत ट्रैक्टर विनिर्माण संयंत्र, मजबूत डीलरशिप नेटवर्क, 100 देशों में 8 लाख से अधिक किसानों का भरोसा और किसानों की सेवा की दिशा में प्रतिबद्धता के साथ सोनालीका दुनिया का नंबर 1 ट्रैक्टर ब्रांड बनने के लिए तैयार है।

नया इनोवेशन केन्द्र सोनालीका के अगले पांच वर्ष में 2 लाख ट्रैक्टर बिक्री लक्ष्य को पाने की दिशा में पहला कदम है।
श्री रमन मित्तल
कार्यकारी निदेशक, सोनालीका समूह
FacebooktwitterFacebooktwitter
www.krishakjagat.org

Leave a Reply

 Click this button or press Ctrl+G to toggle between multilang and English

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Share