मिर्च के छत्तों में गुच्छा बन रहा है कृपया उपाय बतायें।

समाधान- मिर्च का यह रोग विभिन्न प्रकार के विषाणुओं द्वारा होता है। मोजेक के प्रकोप से पत्तियां चितकबरी रंग की हो जाती हैं तथा इनमें कड़ापन आ जाता है। प्रकोपित पौधा सामान्य से कम ऊंचा होता है। इस बीमारी का फैलाव रसचूसक कीटों के द्वारा होता है। आप निम्न उपाय करें-

  • रोग ग्रसित पौधों को उखाड़कर फेक दें।
  • माहो तथा सफेद मक्खी को नियंत्रित करें।
  • विषाणु रोग रोधी जातियां जैसे पूसा सदाबहार, जवाहर मिर्च 218, तेजाब लाल, पूसा ज्वाला, पंत सी-1 लगायें।
  • प्रकोपित फसल पर डायमिथिएट 1 मि.ली. प्रति लीटर पानी में घोल बनाकर अथवा मेटासिस्टाक्स 1 मि.ली. प्रति लीटर पानी में घोल बनाकर 10 दिनों के अंतर से दो छिड़काव करें।
  • मिर्च की तुड़ाई 10 दिनों बाद ही करें। अधिक जानकारी के लिए कृषक जगत द्वारा प्रकाशित मिर्च पुस्तक मंगा सकते हैं।

– शम्भू शर्मा, टिमरन

www.krishakjagat.org

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Share