ट्रॉपिकल के जैविक उत्पाद सभी फसलों में लाभकारी

www.krishakjagat.org
Share

भोपाल। ट्रॉपिकल एग्रो सिस्टम (इं.) प्रा.लि. के जैविक उत्पाद सभी फसलों के लिये लाभकारी हैं। श्री ध्रुव सिंह राजपूत ग्राम रहली जिला रायसेन ने ये उत्पाद अपनी तुअर, गन्ने एवं धान की फसलों में उपयोग किया। सभी फसलों में परिणाम अच्छे मिले। उन्हें इन उत्पादों का सबसे बड़ा लाभ ये लगता है कि ये रसायनिक न होने के बाद भी परिणाम अच्छे मिलते हैं। वे विगत 2 वर्षों से टेग नेमा तुअर में उपयोग कर रहे हैं। जिससे पौधों का विकास अच्छा हो रहा है। गन्ने की जड़ों में सफेद इल्ली के प्रकोप से बचाव के लिये सुपर  फास्ट का प्रयोग किया। जिससे पौधों में हरापन आया तथा गन्ने की लंबाई भी अधिक मिली।  भोपाल। ट्रॉपिकल एग्रो सिस्टम (इं.) प्रा.लि. के जैविक उत्पाद सभी फसलों के लिये लाभकारी हैं। श्री ध्रुव सिंह राजपूत ग्राम रहली जिला रायसेन ने ये उत्पाद अपनी तुअर, गन्ने एवं धान की फसलों में उपयोग किया। सभी फसलों में परिणाम अच्छे मिले। उन्हें इन उत्पादों का सबसे बड़ा लाभ ये लगता है कि ये रसायनिक न होने के बाद भी परिणाम अच्छे मिलते हैं। वे विगत 2 वर्षों से टेग नेमा तुअर में उपयोग कर रहे हैं। जिससे पौधों का विकास अच्छा हो रहा है। गन्ने की जड़ों में सफेद इल्ली के प्रकोप से बचाव के लिये सुपर  फास्ट का प्रयोग किया। जिससे पौधों में हरापन आया तथा गन्ने की लंबाई भी अधिक मिली।  धान की फसल में टेग पाली एवं टेग नाक  का उपयोग इसी वर्ष से किया। फसल स्वस्थ एवं हरी-भरी रही। ग्राम बम्होरी लाल जिला सागर के श्री प्रहलाद सिंह कहते हैं कि सोयाबीन एवं उड़द में नैनोफॉस से अंकुरण अधिक हुआ, दाने अधिक बड़े व बोल्ड हुए एवं उत्पादन भी लगभग 50 प्रतिशत अधिक मिला। इसी जिले के ग्राम लहरवास के अतुल मोघे ने जैविक खेती के लिये ट्रॉपिकल के उत्पाद अपनाये, उन्होंने सीड ट्रीटमेंट के लिये सीडरिच, बोनी के समय नैनो फॉस तथा नासा तथा बाद में धनुष का उपयोग किया। परिणामत: उत्पादन में 30 से 40 प्रतिशत तक की वृद्धि हुई।

www.krishakjagat.org
Share
Share