भावान्तर भुगतान एवं अन्त्योदय मेला 12 फरवरी को भोपाल में

भावान्तर भुगतान एवं अन्त्योदय मेला 12 फरवरी को भोपाल में

रबी में 4 फसलों का पंजीयन भी होगा प्रारंभ

कृषि विभाग द्वारा भोपाल के जम्बूरी मैदान में 12 फरवरी को भावान्तर भुगतान एवं अन्त्योदय मेले का आयोजन किया जा रहा है जिसमें प्रदेश के लगभग 2 लाख किसानों के भाग लेने की संभावना है। इस मेले में मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान दिसम्बर माह में भावान्तर भुगतान योजना के तहत उपज विक्रय करने वाले किसानों को अंतर की राशि का सीधे बैंक खातों में भुगतान करेंगे साथ ही कृषकों को प्रमाण-पत्र भी वितरित किया जाएगा।

म.प्र. में चलाई जा रही भावान्तर भुगतान योजना खरीफ के बाद अब रबी 2017-18 में भी लागू कर दी गई है। शासन ने निर्णय लिया है कि 12 फरवरी से 12 मार्च के बीच चना, मसूर, सरसों एवं प्याज के लिए किसान नि:शुल्क पंजीयन करा सकते हैं। यह पंजीयन का कार्य गेहूं एवं धान की खरीद करने वाली सभी प्राथमिक सहकारी समितियों में किया जाएगा। पंजीयन राष्ट्रीय सूचना केन्द्र (एनआईसी) द्वारा तैयार किए गए भावान्तर भुगतान योजना के पोर्टल पर होगा।

उल्लेखनीय है कि खरीफ 2017 से राज्य में भावान्तर भुगतान योजना प्रारंभ की गई थी, जिसके तहत खरीफ की आठ फसल सोयाबीन, मक्का, मूंग, उड़द, तिल, रामतिल, मूंगफली एवं अरहर फसलें शामिल थी। इन फसलों के तीन चरणों में मॉडल रेट तय कर किसानों के बीच अंतर की राशि का भुगतान किया गया।

अब रबी में 4 फसलों के लिए भावान्तर भुगतान योजना लागू की गई है। इसका पंजीयन 12 फरवरी से शुरू होगा। पंजीयन के लिए किसानों को कृषक ऋण पुस्तिका स्वयं का आधार कार्ड, समग्र आईडी क्रमांक, बैंक खाता क्रमांक एवं मोबाईल नम्बर लाकर पंजीयन करवाना होगा। इसके साथ ही भावान्तर योजना के पोर्टल पर ऑन लाईन पंजीयन भी किया जा सकता है।

www.krishakjagat.org
Share