सोनालीका का मेक क्वालिटी इन इंडिया में विश्वास

नई दिल्ली। लगातार अच्छे प्रदर्शन और इनोवेशन के बूते भारत के सबसे युवा और तीसरे सबसे बड़े ट्रैक्टर ब्रांड इंटरनेशनल ट्रैक्टर्स लि. (आईटीएल) ने पिछले महीने 8 लाख किसानों तक पहुंचने की उपलब्धि हासिल की है। आईटीएल, सोनालीका और सोलिस ट्रैक्टर्स बनाती है। 1 लाख से अधिक इंटरनेशनल किसानों के साथ कंपनी की वैश्विक मौजूदगी है और यह 90 से अधिक देशों में उत्पाद का निर्यात करती है, कंपनी ने 7 लाख से ज्यादा किसानों तक पहुंच बना ली है और महाराष्ट्र, मध्य प्रदेश, राजस्थान, गुजरात, आंध्रप्रदेश तथा उत्तर प्रदेश जैसे राज्यों का इसकी बढ़त में खास योगदान है।

ग्राहकों की संख्या में लगातार हो रही वृद्धि और अंतर्राष्ट्रीय बाजार में विस्तार के बारे में सोनालीका आईटीएल के एग्जीक्यूटिव डायरेक्टर श्री रमन मित्तल ने कहा, ‘आज सोनालीका आईटीएल भारत ही नहीं विदेश में भी किसानों के बीच एक विश्वसनीय ब्रांड बन चुका है। पहले ट्रैक्टर का उत्पादन किसानों को सिर्फ नाम के लिए नहीं बल्कि सबसे बेहतरीन सॉल्यूशन उपलब्ध कराने के जुनून और विश्वास के साथ शुरू हुआ था। इसी जुनून ने हमें अत्याधुनिक निर्माण संयंत्र और सभी प्रमुख टेक्नालॉजी को स्वयं विकसित करने के लिए प्रेरित किया।
भविष्य की योजनाओं के बारे में श्री मित्तल ने कहा, ‘आज हम दुनिया भर में सबसे उत्पादक और विश्वसनीय उत्पाद उपलब्ध कराते हैं, जो होशियारपुर स्थित हमारे विश्व के सबसे बड़े इंटीग्रेटेड ट्रैक्टर प्लांट में निर्मित किए जाते हैं। सोनालीका में हम न सिर्फ मेक इन इंडिया के सिद्धांत में यकीन रखते हैं बल्कि मेक क्वालिटी इन इंडिया में यकीन रखते हैं।

www.krishakjagat.org
Share