कृषि मंत्री ने किया बालाघाट सहकारी बैंक की वेबसाईट का लोकार्पण

बालाघाट। गेहूं की कटाई के बाद किसान नरवाई को जला देते हैं। इससे खेती को बहुत नुकसान होता है। नरवाई जलाने से बहुत से मित्र कीट जल जाते हैं और पर्यावरण को बहुत नुकसान होता है। किसानों को अपने छोटे लाभ के लिए देश के पर्यावरण को नुकसान नहीं पहुंचाना चाहिए।
अभी किसानों से नरवाई नहीं जलाने की अपील और अनुरोध किया जा रहा है, आवश्यक होने पर इसे रोकने के लिए कानून बनाया जायेगा और नरवाई जलाने को कड़ाई से रोका जायेगा। यह बातें मध्यप्रदेश शासन के किसान कल्याण एवं कृषि विकास मंत्री श्री गौरीशंकर बिसेन ने गत दिनों  जिला सहकारी केन्द्रीय बैंक बालाघाट की वेबसाईट के लोकार्पण अवसर पर कही।
वेबसाईट के लोकार्पण अवसर पर जिला सहकारी केन्द्रीय बैंक के अध्यक्ष श्री राजकुमार रायजादा, संचालक श्री महेन्द्र पटले, बैंक के पूर्व अध्यक्ष श्री उदय सिंह नगपुरे, बैंक के महाप्रबंधक श्री पीएस धनवाल, श्री चित्रसेन पारधी, इफको के क्षेत्रीय प्रबंधक श्री एमएल जोशी एवं सहकारी समितियों के शाखा प्रबंधक उपस्थित थे।

www.krishakjagat.org
Share