कृषि वैज्ञानिकों ने धार जिले में तलाशी प्याज एवं टमाटर भण्डारण एवं प्रसंस्करण की संभावनाएं

धार। केन्द्रिय कृषि अभियांत्रिकी संस्थान भोपाल एवं कृषि विज्ञान केन्द्र धार की संयुक्त टीम द्वारा धार जिले में प्याज एवं टमाटर के भण्डारण एवं प्रसंस्करण की संभावनाएं तलाशने हेतु जिले के प्रगतिशील कृषकों के यहां भ्रमण किया गया। टीम मे ड़ॉ.एस.के. गिरी, प्रधान वैज्ञानिक, ड़ॉ. दिलीप पवार वैज्ञानिक, डॉ. मुजफ्फर हसन वैज्ञानिक केन्दी्रय कृषि अभियांत्रिकी संस्थान भोपाल एवं ड़ॉ. जी.एस.गाठिये फसल वैज्ञानिक कृषि विज्ञान केन्द्र धार द्वारा ग्राम गुणावद के कृषक श्री संजय एवं विजय मीणा के यहां परम्परागत तरीके से भण्डार गृह में रखे गए प्याज का निरीक्षण किया गया जिसमें होने वाली हानि का आकलन एवं जिले में आधुनिक भण्डारण की तकनीकी पर किसानों से चर्चा की गई।
ग्राम चालनी, सरदारपुर के कृषक श्री मोहन राठौर, बाबूलाल रामा राठौर एवं श्री निखिल पिता भगवान गुप्ता के यहां लगे टमाटर एवं अन्य सब्जियों तथा परम्परागत तरीके से भण्डार गृह में रखे गए प्याज पर चर्चा की गई । कृषि वैज्ञानिकों द्वारा जिले में प्याज एवं टमाटर के भण्डारण एवं प्रसंस्करण की संभावनाएं तलाशी गई एवं कृषकों से चर्चा कर परम्परागत भण्डार गृहों को आधुनिक बनाने के लिए विचार-विमर्श किया गया। कृषि विज्ञान केन्द्र धार के फसल वैज्ञानिक ड़ॉ. जी.एस. गाठिये द्वारा वैज्ञानिकों एवं किसानों को अवगत कराया गया कि जिले में प्याज एवं टमाटर का उत्पादन बहुतायत मात्रा में होता है जिसका आधुनिक तरिके से भण्डारण एवं प्रसंस्करण आवश्यक है ताकि किसानों को उचित मूल्य मिल सके एवं कृषि आय को दुगुना किया जा सके।
उक्त भ्रमण के दौरान श्री कमलेश गिनावे उद्यान विकास अधिकारी धार एवं कृषि आदान विक्रेता श्री कुशवाह द्वारा सहयोग प्रदान किया गया।

www.krishakjagat.org
Share