कृषि साहित्य ही उन्नति का साधन

www.krishakjagat.org

रीवा। समस्त ग्रामवासियों को श्रेष्ठ कृषि तथा संबंधित विषयक तकनीकी पुस्तकें उपलब्ध करवाने के लिये वाचनालय स्थापित करने की ओर ग्रामवाचनालय से उन्नत खेती नामक विषय पर आयोजित प्रशिक्षण, कृषि विज्ञान केंद्र-रीवा की ओर से एक प्रयास है।
उपरोक्त उद्गार कृषि विज्ञान केंद्र – रीवा की कृषि विस्तार वैज्ञानिक डॉ. किंजल्क सी. सिंह, कृषि महाविद्यालय रीवा के अधिष्ठाता डॉक्टर एस. के. पांडेय के मार्गदर्शन तथा कृषि विज्ञान केंद्र के प्रमुख एवं वरिष्ठ वैज्ञानिक डॉ अजय कुमार पांडेय के दिशा-निर्देशन में केंद्र द्वारा ग्राम कोठी में आयोजित प्रशिक्षण में संबोधित कर रही थीं । प्रशिक्षण को आगे बढ़ाते हुए खाद्य वैज्ञानिक डॉ. चंद्रजीत सिंह ने प्रशिक्षणार्थियों का आह्वाहन किया कि वे कृषि विज्ञान के सतत संपर्क में रहें ।
प्रशिक्षण में महिला बाल विकास की आंगनबाड़ी कार्यकर्ता श्रीमती साधना मालवीय तथा कृषक श्री रामलाल पटेल की उपस्थिति उल्लेखनीय रही ।

FacebooktwitterFacebooktwitter
www.krishakjagat.org
Share