उम्मीद से ऊपर बढ़ी उड़द

www.krishakjagat.org

संचालक कृषि ने बताया कि इस वर्ष दलहनी फसलों में उड़द का रकबा तेजी से बढ़ा है। इसकी बोनी अब तक 14 लाख हेक्टेयर में कर ली गई है जो लक्ष्य से लगभग 2 लाख हेक्टेयर अधिक है। इस वर्ष उड़द का लक्ष्य 12 लाख हेक्टेयर रखा गया है। उन्होंने बताया कि जुलाई के पहले-दूसरे सप्ताह में वर्षा की कमी के कारण सोयाबीन के रकबे में कमी आई है। अब तक 45 लाख हेक्टेयर में सोयाबीन बोई गई है जबकि गत वर्ष इस अवधि में लगभग 50 लाख हेक्टेयर में सोयाबीन की बोनी हो गई थी।
श्री मोहनलाल ने बताया कि धान बेल्ट में पर्याप्त पानी की उपलब्धता है मानसूनी वर्षा अच्छी हुई है। अब तक राज्य में लगभग 13 लाख हेक्टेयर में धान की बोनी कर ली गई है जो तेजी से और रकबा कवर करेगी। उन्होंने बताया कि ग्वालियर क्षेत्र में धान के रकबे में कमी आने की संभावना है जबकि दलहनी फसलों का रकबा बढ़ेगा। उन्होंने बताया कि मक्के एवं कपास की बोनी लगभग पूरी हो गई है।
संचालक कृषि ने बताया कि इस वर्ष भी खरीफ में रिकार्ड उत्पादन लेने के लिए कृषि विशेषज्ञों से परामर्श लेने के बाद किसानों को नई तकनीकी जानकारी दी जा रही है। किसानों को बीजोपचार, उन्नत बीज, अधिक उत्पादन देने वाली किस्में तथा अंतरवर्तीय फसल लेने की सलाह दी गई है जिससे जोखिम कम हो तथा किसान को भरपूर फसल उत्पादन मिल सके। उन्होंने बताया कि खरीफ में कृषकों के लिए पर्याप्त आदान व्यवस्था की गई है।

FacebooktwitterFacebooktwitter
www.krishakjagat.org
Share