भारत और जर्मनी कृषि क्षेत्र में करेंगे सहयोग

Share On : facebook-krishakjagat.org twitter-krishakjagat.org whatsapp-krishakjagat.org

भारत-और-जर्मनी-कृषि-क्षेत्र-में-करेंग

कृषि बाजार विकास सहयोग के संयुक्त घोषणा पत्र पर हस्ताक्षर

(दिल्ली कार्यालय)

नई दिल्ली। कृषि एवं किसान कल्याण मंत्री श्री नरेन्द्र सिंह तोमर ने गत दिनों नई दिल्ली में जर्मनी की खाद्य एवं कृषि मंत्री सुश्री जूलिया क्लोकनर के साथ बैठक की। दोनों मंत्रियों ने भारत और जर्मनी के बीच कृषि बाजार विकास सहयोग से संबंधित संयुक्त घोषणा पत्र पर हस्ताक्षर किये। बैठक के दौरान श्री तोमर ने कहा कि भारत की प्राथमिकता उत्पादन के बजाय किसान केंद्रित हो गयी है।

 2022 तक किसानों की आय दोगुनी करने का लक्ष्य निर्धारित किया है। इसके लिए उत्पादन बढ़ाने, लागत कम करने, प्रतिस्पर्धी बाजार बनाने तथा कृषि के लिए मूल्य श्रृंखला को मजबूत करने पर विशेष ध्यान दिया जा रहा है। कृषि निर्यात नीति 2018 के तहत कृषि निर्यात को 2022 तक दोगुनी कर 60 बिलियन डॉलर तक पहुंचाने का लक्ष्य निर्धारित किया है। 

सुश्री जूलिया क्लोकनर ने कहा कि जर्मनी के पास मशीनीकरण और फसल कटाई के बाद प्रबंधन की विशेषज्ञता है। किसानों की आय दोगुनी करने में यह महत्वपूर्ण भूमिका निभा सकता है। 

दोनों मंत्रियों ने कहा कि जर्मनी और भारत के लिए कृषि प्राथमिकता का क्षेत्र है। इसके माध्यम से सतत् विकास लक्ष्य को हासिल किया जा सकता है। दोनों मंत्रियों ने मशीनीकरण, फसल कटाई के बाद प्रबंधन,  आपूर्ति श्रृंखला, बाजार तक पहुंच, निर्यात, खाद्य सुरक्षा, प्रयोगशालाओं की स्थापना में सहयोग खाद्य जांच कार्यशाला आदि विषयों पर भी विचार विमर्श किया। कृषि  क्षेत्र में तकनीकी और पेशेवर प्रशिक्षण के लिये राष्ट्रीय कृषि विस्तार प्रबंधन संस्थान तथा जर्मन एग्रीकल्चर ऐकेडमी (डीईयूएलए)- निएनबर्ग के बीच सहमति पत्र पर हस्ताक्षर हुए।

Share On : facebook-krishakjagat.org twitter-krishakjagat.org whatsapp-krishakjagat.org

Follow us on

Subscribe Here

For More Articles

Releated News