आर्किड पार्क में होगा गुलाब, रजनीगंधा एवं जरवेरा का उत्पादन

Share On : facebook-krishakjagat.org twitter-krishakjagat.org whatsapp-krishakjagat.org

आर्किड-पार्क-में-होगा-गुलाब--रजनीगंधा-

उद्यानिकी आयुक्त डॉ. कालीदुरई से कृषक जगत की बातचीत

(अतुल सक्सेना)

भोपाल। म.प्र. में उद्यानिकी विकास को गति देना पहली प्राथमिकता है। इसके लिए योजनाओं का लाभ अंतिम किसान को मिले इस दिशा में प्रयास किया जा रहा है। इसके साथ ही युवाओं को रोजगार देने के लिए आर्किड पार्क जैसी नई कवायद की जा रही है जिसमें फूलों की खेती कर प्रदेश को नई पहचान मिलेगी। यह जानकारी प्रदेश के नव नियुक्त आयुक्त सह संचालक उद्यानिकी एवं खाद्य प्रसंस्करण डॉ. एम. कालीदुरई ने कृषक जगत को एक विशेष मुलाकात में दी।

डॉ. कालीदुरई ने बताया कि छिंदवाड़ा जिले में करीब 100 एकड़ में आर्किड पार्क विकसित किया जा रहा है। इसमें युवा कृषक पाली हाऊस भी विकसित करेंगे। उन्होंने बताया कि पार्क के लिए भूमि चिन्हित कर ली गई है। योजना के तहत किसानों को लीज पर जमीन दी जाएगी, इसमें मुख्यत: गुलाब, रजनीगंधा एवं जरवेरा जैसे फूलों का उत्पादन होगा।

आयुक्त ने बताया कि आर्किड पार्क में किसानों को लीज पर भूमि देने के साथ-साथ सिंचाई एवं विद्युत सुविधा भी उपलब्ध कराई जाएगी तथा उद्यानिकी विभाग के प्रशिक्षित विशेषज्ञ किसानों को प्रशिक्षण भी देंगे। उन्होंने बताया कि इसके लिए उद्यानिकी अधिकारियों को आगामी 24 से 30 सितम्बर तक सिक्किम स्थित आर्किड ट्रेनिंग सेंटर भेजा जा रहा है। जहां से प्रशिक्षित होकर लौटने पर वे किसानों को फूलों की खेती के लिए अनुकूल तापमान, सिंचाई, उत्पादन एवं विपणन के लिए मार्गदर्शन देने के साथ-साथ सहयोग भी करेंगे।

डॉ. कालीदुरई ने बताया कि केन्द्र पोषित एकीकृत उद्यानिकी विकास योजना के तहत प्रदेश में उद्यानिकी फसलों के विकास की अपार संभावनाएं हैं। इसके लिए ईमानदारी से प्रयास करना होगा। उन्होंने कहा कि राज्य में नर्सरी का विकास, फलों के बगीचे में वृद्धि एवं टिश्यू कल्चर लैब को विकसित किया जायेगा।

आयुक्त ने बताया कि आम उत्पादन में वृद्धि के लिए राज्य के हरदा, होशंगाबाद, मण्डला, डिण्डोरी एवं बैतूल जिलों में एक एकड़ में 500 पौधे लगाए जाएंगे, जिससे बगीचा तैयार हो जाएगा। उन्होंने बताया कि अंजीर उत्पादन के लिए भी कार्य योजना बनाई जा रही है जिसमें छिंदवाड़ा जिले के 250 किसान परिवारों को पौध वितरण किया जाएगा।

Share On : facebook-krishakjagat.org twitter-krishakjagat.org whatsapp-krishakjagat.org

Follow us on

Subscribe Here

For More Articles

Releated News