खाद, बीज अमानक पाये जाने पर कम्पनी के खिलाफ क्रिमनल केस होगा

Share On : facebook-krishakjagat.org twitter-krishakjagat.org whatsapp-krishakjagat.org

खाद--बीज-अमानक-पाये-जाने-पर-कम्पनी-के-ख

भोपाल। कृषि उत्पादन आयुक्त श्री प्रभांशु कमल ने निर्देश दिए कि उच्च गुणवत्ता एवं बेहतर उत्पादन के लिए अमानक खाद एवं बीज की बिक्री को सख्ती से रोकें। एक भी प्रकरण अमानक पाए जाने पर निर्माता कंपनी का पंजीयन निरस्त कर आपराधिक प्रकरण दर्ज कराएं। उन्होंने निर्देश दिए कि दोनों संभागों सहित प्रदेश में कहीं भी किसी भी कीमत में अमानक कृषि आदानों की बिक्री न हो ऐसी व्यवस्था करनी होंगी। यह निर्णय रबी 2018-19 की समीक्षा एवं खरीफ 2019 के कार्यक्रम निर्धारण के लिए गत दिनों आयोजित संभागीय बैठक में लिया गया।  

  • जिले में माईक्रो प्लानिंग करें। 
  • कलेक्टर 70 फीसदी समय कृषि को दें। 
  • सूक्ष्म सिंचाई को बढ़ावा दें। 
  • नई तकनीक के लिए कृषकों को प्रोत्साहित करें। 

बैठक में बताया गया कि वर्ष 2019 खरीफ सीजन के लिए 17 लाख 70 हजार हेक्टेयर में धान, मक्का, अरहर, उड़द, मूंग, सोयाबीन सहित अन्य फसलों के क्षेत्राच्छादन का लक्ष्य निर्धारित किया गया है जबकि इन्ही जिंसों के लिए नर्मदापुरम् सम्भाग का लक्ष्य 9 लाख 14 हज़ार हेक्टेयर का रखा गया है।   इस अवसर पर प्रमुख सचिव कृषि श्री अजीत केसरी, भोपाल संभागायुक्त श्रीमती कल्पना श्रीवास्तव, नर्मदापुरम आयुक्त श्री आर.के.मिश्रा, संचालक कृषि श्री मुकेश शुक्ला, संचालक उद्यानिकी श्री कवींद्र कियावत, सहकारिता आयुक्त श्री एम.के. अग्रवाल, बीज निगम के एम.डी. श्री रमेश भण्डारी, संचालक अभियांत्रिकी श्री राजीव चौधरी, जिलों के कलेक्टर्स एवं कृषि से संंबंधित विभागों के अधिकारी-कर्मचारी उपस्थित थे।

Share On : facebook-krishakjagat.org twitter-krishakjagat.org whatsapp-krishakjagat.org

Follow us on

Subscribe Here

For More Articles

Releated News