लोकसभा चुनाव 2019 - भाजपा को प्रचंड बहुमत

Share On : facebook-krishakjagat.org twitter-krishakjagat.org whatsapp-krishakjagat.org

लोकसभा-चुनाव-2019---भाजपा-को-प्रचंड-बहुमत

2 से दोबारा तक का सफर

कांग्रेस का सफाया, दिग्गज हारे

 

कुल  सीटें 542
बहुमत  272
   
भाजपा 303
कांग्रेस  52
अन्य  187

नई दिल्ली। इंदिरा गांधी की 1971 की ऐतिहासिक जीत के बाद भारत में कोई भी प्रधानमंत्री बहुमत लेकर सत्ता में नहीं लौट पाया और 1984 के बाद कोई भी पार्टी 300 सीटों का आंकड़ा नहीं लांघ पाई। लेकिन लोकसभा चुनावों की मतगणना के वक्त जब इलेक्ट्रॉनिक वोटिंग मशीन (ईवीएम) खोली गई तो उनमें से यह इबारत निकली। पता चला कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने करीब पांच दशक बाद उस इतिहास को दोहरा दिया और 2014 से भी भारी बहुमत के साथ सत्ता में वापसी की है।

मोदी ऐसा करने वाले पहले गैर-कांग्रेसी प्रधानमंत्री बने और उनकी अगुआई में भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) ने भी 303 सीटें पाने का करिश्मा कर दिया। इससे पहले 300 सीटों का आंकड़ा कांग्रेस ने 1984 में लांघा था, जब इंदिरा गांधी की हत्या के बाद हुए चुनावों में उसे 400 से भी ज्यादा सीटें हासिल हुई थीं।

मगर भाजपा की यह जीत इसलिए खास है क्योंकि देश भर में लगभग एकजुट विपक्ष से जूझकर पार्टी ने यह कारनामा किया है। उत्तर प्रदेश में महागठबंधन, बिहार में कांग्रेस और राष्ट्रीय जनता दल (राजद) के गठबंधन, कई राज्यों में विपक्षी पार्टियों की दोस्ती का व्यूह तोड़कर पार्टी ने अपने गठन के बाद से सबसे अच्छा प्रदर्शन कर दिया।  दो से दुबारा संसद में पहुंचे।

मोदी के तीन वादे
  • बदइरादे या बदनीयत से कोई काम नहीं करूंगा।
  • मैं मेरे लिए कुछ नहीं करूंगा।
  • मेरा पल-पल और मेरा कण-कण देशवासियों को समर्पित होगा।

जब भी मेरा मूल्यांकन करें तो संकल्पों के इस तराजू पर जरूर कसना। कमी रह जाय तो कोसना भी।  

- नरेन्द्र मोदी  

प्रधानमंत्री ने 2022 तक सभी को आवास देने का अपना वायदा दोहराया। उन्होंने कहा कि यह अनूठा चुनाव था, जिसमें महंगाई और भ्रष्टाचार मुद्दे ही नहीं थे। उन्होंने कहा कि 2019 का चुनावी जनादेश उनके लिए झटका है, जो चुनावी फायदे के लिए जातियों का सहारा लेते हैं। मोदी ने कहा, 'अब दो ही जातियां हैं- एक गरीब और दूसरी वे लोग जो उन्हें गरीबी से निकालने में मदद कर सकते हैं।' भाजपा ने कांग्रेस और दूसरे विपक्षी दलों को अधिकांश राज्यों में धराशायी कर दिया। जीत के बाद भाजपा मुख्यालय में आयोजित समारोह में पार्टी अध्यक्ष अमित शाह ने इसका जिक्र करते हुए कहा कि कांग्रेस देश के कई राज्यों में एक भी सीट नहीं जीत पाई। 

  • अब देश में दो ही जाति बचेंगी - एक गरीब, दूसरी गरीबी दूर करने वाली।
  • 102 भाजपा प्रत्याशी 3 लाख से ज्यादा वोटों से जीते।
  • 14 राज्यों में कांग्रेस को एक भी सीट नहीं।
  • 48 साल बाद कोई पार्टी लगातार दूसरी बार बहुमत में।

लोकसभा चुनाव में भाजपा की जीत का उल्लेखनीय पहलू यह है कि एक दर्जन से अधिक राज्यों में पार्टी 50 फीसदी से अधिक मतदाताओं का समर्थन हासिल करने में सफल रही है।

 

Share On : facebook-krishakjagat.org twitter-krishakjagat.org whatsapp-krishakjagat.org

Follow us on

Subscribe Here

For More Articles

Releated News