कृषि यंत्र

फसल अवशेष के प्रभाव एवं प्रबंधन

Hits: 2297
मृदा के भौतिक गुणों पर प्रभाव -फसल अवशेषों को जलाने के कारण मृदा ताप में वृद्धि होती है। जिसके फसलस्वरूप मृदा सतह सख्त हो जाती है एवं मृदा की सघनता में वृद्धि होती है साथ ही मृदा जलधारण क्षमता में कमी आती है तथा ..

Read More


ट्रैक्टर चलित बीज-खाद बुआई यंत्र

Hits: 4175
भारत एक कृषि प्रधान देश है। यहाँ 142.6 मिलियन हेक्टेयर भूमि पर कृषि होती है। जिसमें 0.697 मिलियन हेक्टेयर पर कदन्न या मोटे अनाज की फसलों का उत्पादन किया जाता है, अधिकतर ये फसलें मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ उड़ीसा, तमिलनाडु, कर्नाट..

Read More


पर्यावरण को बचाने के लिए हैप्पी सीडर

Hits: 2460
खाद्यान्न फसलों में धान-गेहूं भारत का एक प्रमुख फसल प्रणाली है। यह फसल प्रणाली देश की खाद्यान्न सुरक्षा के लिए रीढ़ की हड्डी है। हमारे देश के उत्तर-पश्चिम और उत्तर-पूर्व में लगभग 12.3 मिलियन हेक्टेयर क्षेत्र धान-ग..

Read More


थ्रेशर प्रचालन में सावधानियाँ व सुझाव

Hits: 2517
थ्रेशर दुर्घटनाओं के प्रमुख कारण थ्रेशर पर काम करते समय दुर्घटनाएं मुख्यत: उचित जानकारी के अभाव में तथा कुछ असुरक्षित मशीनों के उपयोग से होती हैं। एक सर्वेक्षण के अनुसार लगभग 73 प्रतिशत दुर्घटनाएं मानवीय कार..

Read More


द्विस्तरीय उर्वरक के लिये नया यंत्र

Hits: 1782
उर्वरक नियोजन कुशल फसल प्रबंधन का एक अभिन्न हिस्सा है। उर्वरक मिट्टी की कृषि उत्पादकता को उत्प्रेरित करने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाते हैं। प्राय: किसानों द्वारा उर्वरक का उपयोग बुआई पश्चात छिड़काव पद्धति द्वारा क..

Read More


अधिक उत्पादन के लिये अपोजी लेजर लैण्ड लेवलर

Hits: 2222
भोपाल। आधुनिक खेती में अधिक उत्पादन के लिये जितना महत्व उत्तम बीज, संतुलित उर्वरक, रोग व कीट नियंत्रण का है उतना ही महत्व भूमि की प्रकृति का भी है। यदि खेत की सतह ऊंची-नीची होगी तो फसल के जड़ क्षेत्र में बीज से लेकर सिंचा..

Read More


‘प्लग ट्रे’ सब्जी पौध उत्पादन की आधुनिक तकनीकी

Hits: 3085
प्लग ट्रे पौध उत्पादन तकनीकी को शहरी क्षेत्रों के आसपास सब्जी पौध उत्पादन हेतु लघु उद्योग के रूप में अपनाया जा सकता है। इस विधि द्वारा सब्जी बीजों में शत- प्रतिशत अंकुरण एवं रोग रहित पौधे प्राप्त होते हैं। तथा इस विधि ..

Read More


बहुफसली गहाई यंत्र दोष, निवारण एवं सावधानियाँ

Hits: 1781
आजकल बड़े आकार के बहुफसली थ्रेशर बनाए जा रहे हैं, इसका इस्तेमाल गेहूं, धान, ज्वार, चना, मक्का, सोयाबीन, अरहर और सूर्यमुखी की गहाई के लिये किया जाता है। इस थ्रेशर से विभिन्न प्रकार के फसलों की गहाई करने पर साफ दाने प्राप्त ..

Read More


खरपतवार नियंत्रण के आधुनिक यंत्र

Hits: 3929
खरपतवारों की रोकथाम से न केवल फसलों की पैदावार बढ़ाई जा सकती है, बल्कि उसमें निहित प्रोटीन व अन्य लाभकारी तत्व एवं फसलों की गुणवत्ता में वृद्धि की जा सकती है। प्राय: निंदाई करके इन्हें निकाल दिया जाता है। फसलों की निंद..

Read More


टीएमआर वैगन की डेयरी में उपयोगिता

Hits: 2496
दुुग्ध उत्पादन में भारत की गिनती दुनिया के अग्रणी देशों में होती है। सामान्यत: भारत में डेयरी घर के पीछे अहाते में चलायी  जाती है और डेयरी में जानवरों  की औसत संख्या  दो से पॉंच  होती  है। इसमें  सामान्यत: घर के ..

Read More


Follow us on

Subscribe Here

For More Articles