पशुपालन

पशुओं के लिए पौष्टिक आहार अजोला

Hits: 36
अजोला अजोला तेजी से बडऩे वाली एक प्रकार की जलीय फर्न है, जो  पानी की सतह पर तैरती रहती है। धान की फसल में नील हरित काई की तरह अजोला को भी हरी खाद के रूप में उगाया जाता है और कई बार यह खेत में प्राकृतिक ..

Read More


बारिश में पशुओं की देखभाल

Hits: 525
बारिश के मौसम में बीमार पशु द्वारा मिट्टी और पानी भी संक्रमित हो जाते हैं जिस के संपर्क में आने से स्वस्थ पशुओं के संक्रमित होने की सम्भावना बड़ जाती है। इस लिये रोगी पशु को स्वस्थ पशु से अलग रखें। इस मौसम में पशुओं में ..

Read More


पशु चिकित्सा, कृषि विभाग अधिकरियों ने श्री यादव का किया स्वागत

Hits: 150
बालाघाट। म.प्र. शासन के पशुपालन, मछुआ कल्याण एवं मत्स्य विकास विभाग के मंत्री श्री लाखन सिंह यादव का पशु चिकित्सा विभाग एवं कृषि विभाग के अधिकारियों ने हार पहनाकर स्वागत किया। राजपत्रित पशु चिकित्सक संघ के पदाध..

Read More


पशुओं के लिए सम्पूर्ण आहार पद्धति

Hits: 528
पशुओं से अधिकतम उत्पादन (मांस, दूध, ऊन इत्यादि) प्राप्त करने के लिए उन्हें संतुलित आहार खिलाना आवश्यक है। हरे चारे की कमी के कारण पशुओं की पोषक तत्वों की आवश्यकता की पूर्ति नहीं होती है। पोषक तत्वों की कमी को पूरा करन..

Read More


आधुनिक कार्प हेचरी संरचना

Hits: 253
कार्प हेचरी के भाग- ऑवरहेड टैंक प्रजनन कुंड सह अण्ड निषेचन कुण्ड जीरा संचय कुंड  कार्प कल्चर भारत में प्र..

Read More


खेती की रीढ़ - बैल

Hits: 457
बैलों में होने वाले रोग, चिकित्सा-बचाव योक गॉल /गर्दन या कंधा का घाव यह चमड़े अथवा चमड़े के नीचे हो..

Read More


बकरियों के खानपान में देखरेख

Hits: 517
गतांक से आगे बकरियों को खायचारे के शुष्क पदार्थ की मात्रा का चार गुना पानी की आवश्यकता होती है, परन्तु दुधारू बकरियों को प्रत्येक लीटर दूध के लिये 1.3 लीटर पानी की आवश्यकता होती है। पूरे समय साफ प..

Read More


मत्स्य पालक किसानों के लिए होंगी कार्यशालाएं

Hits: 243
कोचीन। श्रीमती रजनी सेखरी सिबल, आईएएस, सचिव, मत्स्य विभाग, भारत सरकार ने भाकृअनुप-केंद्रीय मात्स्यिकी प्रौद्योगिकी संस्थान, कोचीन का दौरा किया। श्रीमती सिबल ने संस्थान की अलग-अलग एनएबीएल मान्यता प्राप्त प्रयो..

Read More


बकरियों का आहार प्रबंधन

Hits: 404
बकरियों को वृद्धि, दुग्ध व मांस उत्पादन, जनन तथा अन्य सभी दैहिक क्रियाओं के लिए उचित पोषक तत्वों की आवश्यकता होती है। पोषक तत्व भोज्य पदार्थ में पाये जाने वाले ऐसे रसायनिक तत्व होते है, जो कि न केवल उनका जीवन काल बढ़ाते ..

Read More


रिलायंस फाउंडेशन ने पशु चिकित्सा शिविर आयोजित किया

Hits: 346
पन्ना। कृषि क्षेत्र में पशुपालन आमदनी का एक प्रमुख माध्यम बनता जा रहा है। विशेष रूप से कम कृषि भूमि वाले किसानों के लिए आय बढ़ाने का अच्छा माध्यम है। लेकिन इसके लिए जरूरी है कि पशुओं का पालन उचित और वैज्ञानिक तरी..

Read More


Follow us on

Subscribe Here

For More Articles