पशुपालन

साहिवाल गाय और उसकी खासियत

Hits: 2432
साहिवाल गाय और उसकी खासियत साहीवाल नस्ल की गाय पाकिस्तान में साहिवाल जिले से उत्पन्न मानी जाती है। आज साहीवाल भारत और पाकिस्तान में सबसे अच्छा डेयरी नस्लों  में से एक है। ..

Read More


बकरियों में प्रजनन व नस्ल सुधार

Hits: 646
जलवायु के अनुरूप उपयुक्त नस्ल का चुनाव करें। बकरियों में नियंत्रित गर्भधारण करनी चाहिए। उसके लिए नर और मादा को अलग-अलग रखें।  हर सुबह बकरियों के झुंड में बकरा छोड़ें और जो बकरी गर्म..

Read More


साल भर हरा चारा

Hits: 489
पशुओं का स्वास्थ्य समय से प्रजनन एवं सस्ते दुग्ध उत्पादन की दृष्टि से हरे चारे का बड़ा महत्व है।  हरे एवं रसीले चारे- हरे चारे वे चारे हैं जिनमें पानी की मात्रा अधिक पाई जाती है। सामान्यत: इनमें पा..

Read More


गौ पशुओं में संक्रामक रोग एवं उनकी रोकथाम

Hits: 500
गौ पशुओं में संक्रामक रोग एवं उनकी रोकथाम भारत वर्ष कृषि प्रधान देश है, कृषि व पशुपालन दोनों ही एक-दूसरे के पूरक हैं। पशु रोगों से पशु को बचाना हमारा कर्त..

Read More


दुधारू पशु एवं पशुशाला

Hits: 371
दुधारू पशु एवं पशुशाला हमारा देश एक कृषि प्रधान देश है तथा यहां पशुपालन साधारणत: कृषि का एक महत्वपूर्ण अंग है जो कि देश की अर्थव्यवस्था में मुख्य भूमिका अदा करता ..

Read More


निराश्रित पशुधन का प्रबंधन करें - श्री यादव

Hits: 319
ग्वालियर संभाग के अधिकारियों की बैठक भोपाल। प्रदेश सरकार निराश्रित गौवंश के बेहतर प्रबंधन के लिये कटिबद्ध है। न..

Read More


दूध संबंधी रोचक बातें

Hits: 943
दूध क्या है ? प्रकृति में कुछ सस्तन प्राणी हैं मतलब जिन मादाओं को स्तन होते हैं उन्हें सस्तन प्राणी कहा जाता है। उदा. गाय, भैंस, बकरी, भेड़, बंदरिया, शेरनी, घोड़ी, कुतिया, बिल्ली यह मादाएं प..

Read More


क्या पशु भी खर्राटे लेते हैं

Hits: 299
कारण - इस रोग का फैलाव विभिन्न प्रकार के कारण होता है। इनमें प्लॅनीरबीस, लिमनिया जाति की लार्वा की बढ़वार होकर यह रोग निर्माण करने वाले फरकोसर्कस सर्केरिया पानी में प्रवेश करते हैं। ऐसा दूषित पानी तंदुरूस्त पशु ..

Read More


घोड़ों के ग्लैंडर्स रोग के लिए एलिजा किट्स जारी

Hits: 317
नई दिल्ली। केन्द्रीय कृषि एवं किसान कल्याण मंत्री श्री राधा मोहन सिंह ने एलिजा (एंजाइम लिंग्ड इम्यून सौरबेन्ट एसै) किट्स जारी की। एक ग्लैंडर्स रोग के लिए और दूसरी घोड़ों के संक्रामक खून की कमी रोग के लिए। ये दोन..

Read More


ठंड से मेमनों की सुरक्षा

Hits: 307
ब्याने के बाद मेमनों की देखभाल : जून-जुलाई माह में बरसात के बाद उगी हुई वनस्पतियों को खाने के बाद अक्टूबर से दिसंबर माह में ज्यादातर मादा बकरियां ब्याती हैं। यह ऋतु बेहद ठंडा होने के कारण इसमें मेमन..

Read More


Follow us on

Subscribe Here

For More Articles