विविध

जैविक खेती वैज्ञानिक क्यों नहीं

Hits: 1550
पृथ्वी के निर्माण व उसमें मानव के आगमन से लेकर 20वीं सदी के प्रारंभ तक मानव आबादी मात्र एक अरब तक ही पहुंच पाई थी परंतु जब 20वीं सदी का अंत हुआ तो मानव संख्या सात गुना बढ़कर लगभग सात अरब तक पहुंच गई। एक अरब आबादी के भरण-पोषण के लिये मान..

Read More


किसानों की आत्महत्या, गलत परम्परा – ज्ञान का अभाव

Hits: 1125
दूरदर्शन व समाचार पत्रों में प्रतिदिन किसानों द्वारा आत्महत्या करने के समाचार, उसके कारण व निवारण के बारे में सोचने पर विवाश करते हैं। बुढ़ापा, विपत्तियां व मृत्यु जिन्दगी के अटल सत्य हैं। जिंदगी जिंदा दिली का नाम हैं मुर्दा दि..

Read More


जीएसटी का कृषि पर असर

Hits: 2293
अन्तत: जीएसटी (गुड्स तथा सर्विस टैक्स) 1 जुलाई 2017 से लागू हो गया। कृषि पर इसका एक मिला-जुला असर पडऩे वाला है। जहां बीज, कार्बनिक खाद जो किसी ब्रांड नाम से न बेची जाती हो उस पर पहले की तरह कोई कर नहीं लगेगा। हेन्डपंप तथा उसके कलपुर्जे प..

Read More


जीएम सरसों की खेती सरकार क्यों दे रही है इसे बढ़ावा

Hits: 1390
भारत एक जादू के लिए तैयार है-निम्न स्तर के गुणसूत्रीय बदलाव वाली जीएम मस्टर्ड (सरसों) से पैदावार बढ़ोत्तरी का जादू। शायद भारतीय वैज्ञानिकों का ये कोई रोप ट्रिक यानि रस्सी वाला जादू है। मैंने दुनिया में कहीं भी बदतर किस्म से पैदा..

Read More


जेटली को क्या अधिकार है किसानों की कर्जमाफी रोकने का : केलकर

Hits: 710
प्रश्न : भाजपा का कहना है कि किसान आन्दोलन के पीछे विपक्षी पार्टियों का हाथ है, आपका क्या कहना है। उत्तर-देश आज एक ज्वालामुखी के मुहाने पर बैठा है। यह ज्वालामुखी किसानों के खेतों में धधक रहा है। यह किसी भी दिन फट सकता है। देश में ..

Read More


कपास की उत्पादकता में हम कहाँ ?

Hits: 2804
भारत, चीन के बाद दुनिया का दूसरा कपास उत्पादक देश है। और यह विश्व की कपास का 27 प्रतिशत उत्पादन करता है, परन्तु देश की कपास उत्पादकता मात्र 565 किलो ग्राम प्रति हेक्टेयर है। यह विश्व का औसत उत्पादकता से कहीं नीचे है। यह एक चिंता का विष..

Read More


अच्छी वर्षा का पूर्वानुमान एक सुखद समाचार

Hits: 880
किसानों के लिए खरीफ 2017 में भी सामान्य वर्षा का पूर्वानुमान एक सुखद समाचार है। वर्ष 2014 तथा 2015 में कमजोर मानसून के बाद वर्ष 2016 में भले ही मानसून में 8-10 दिन की देरी हुई परंतु बाद में सामान्य व सामान्य से अच्छी वर्षा हुई, जिस कारण खरीफ फसल..

Read More


आर्थिक उन्नति के लिये खेती जरूरी

Hits: 1486
पलायन की मार से गाँव के गाँव खाली हो रहे हैं। बढ़ते शहरीकरण के मद्देनजर राष्ट्रीय कौशल विकास परिषद ने खेती-किसानी में लगी आबादी की तादाद 52 फीसदी से घटाकर 38 फीसदी करने की योजना बनाई है। इसके मायने पांच साल में तकरीबन 10 करोड़ लोग गाँ..

Read More


पर्यावरण प्रेमी अनिल माधव दवे

Hits: 1352
नदियों और जलाशयों विशेष रूप से नर्मदा नदी के संरक्षण से लेकर जलवायु परिवर्तन की राजनीति उनके मन में बसी हुई थी। पर्यावरण मंत्री श्री अनिल माधव दवे ने आधुनिक और प्राचीन भारतीय विचारों के बीच संतुलन बनाने की काफी कोशिश की पर्यावर..

Read More


सोयाबीन का विकल्प आवश्यक

Hits: 2052
पिछले 5-6 दशकों से सोयाबीन मध्यप्रदेश में खरीफ की एक प्रमुख फसल के रूप में ली जा रही है। प्रदेश में सत्तर के दशक में इसकी खेती आरंभ की गयी थी। किसानों ने इसे खरीफ की एक प्रमुख फसल के रूप में अपनाया और इसका क्षेत्र वर्ष 2013-14 में बढ़कर 62.61 ..

Read More


Follow us on

Subscribe Here

For More Articles