टैफे के 'जेफार्म सर्विसेज' का गुजरात में शुभारम्भ

Share On :

tafes-zepharm-services-launched-in-gujarat

गुजरात के मुख्यमंत्री श्री विजय रुपाणी ने लॉन्च किया

गांधीनगर। भारत भर में किसानों के जीवन को समृद्ध करने के उद्देश्य  के साथ जुड़ी टैफे की 'जेफार्म सर्विसेज' एक सीएसआर पहल है। इस पहल का गुजरात में शुभारम्भ श्री विजय रुपाणी, मुख्यमंत्री, द्वारा किया गया। राज्य में जेफार्म सर्विसेज की गतिविधियां गुजरात सरकार के साथ मिलकर चलाई जायेंगी। इस अवसर पर श्री नरेन्द्र  सिंह तोमर, कृषि एवं किसान कल्याण मंत्री भारत सरकार और श्री रणछोड़भाई चानाभाई फल्दू, कृषि, ग्रामीण विकास एवं परिवहन मंत्री, गुजरात सरकार तथा श्री टी. आर. केसवन, ग्रुप प्रेसिडेंट (कॉर्पोरेट रिलेशंस और अलायंस) - टैफे उपस्थित थे। टैफे की जेफार्म सर्विसेज का उद्देश्य छोटे और सीमांत किसानों को ट्रैक्टर और आधुनिक कृषि उपकरणों को किराये पर उपलब्ध कराकर कृषि मशीनीकरण से संबंधित समाधानों तक आसान पहुंच बढ़ाना, उनकी उत्पादकता को बढ़ाना और उनकी आय में उल्लेखनीय वृद्धि करना है। सुश्री मल्लिका श्रीनिवासन, चेयरमैन - टैफे, ने कहा कि हमारे देश में लगभग 85 प्रतिशत किसानों, के पास अपनी पैदावार और आय में सुधार करने के लिए कृषि मशीनीकरण तक कोई पहुंच नहीं है। जेफार्म सर्विसेज एक सीएसआर पहल है, जो जेफार्म सर्विसेज ऐप से किसानों को अपने ट्रैक्टर और कृषि उपकरणों को किराये पर देने, और इस सेवा की आवश्यकता वाले छोटे किसानों को यह सेवा उपलब्ध कराने, दोनों तरह की सुविधाएं  प्रदान करता है। हमारा उद्देश्य गुजरात के किसानों तक पहुंचना, देश भर के लाखों किसानों के जीवन में बदलाव लाना और 2022 तक किसानों की आय दोगुनी करने के प्रधान मंत्री की सोच को साकार करना है।

श्री केसवन ने कहा कि गुजरात सरकार के साथ मिलकर, टैफे ने साझा अर्थव्यवस्था मॉडल के जरिये राज्य में टिकाऊ कृषि उत्पादकता और विकास के लिए जेफार्म सर्विसेज लॉन्च की है। जेफार्म सर्विसेज पूरी तरह से पारदर्शी है और इसमें कोई भी अदृश्यं शुल्क या कमीशन नहीं लिया जाता है।

टैफे की जेफार्म सर्विसेज किसान-से-किसान (एफ2एफ) रेंटल प्लेटफार्म के जरिये किसानों को मुफ्त में ट्रैक्टर और आधुनिक कृषि मशीनरी हासिल करने की सुविधा देता है। जेफार्म सर्विसेज गुजरात सरकार के कृषि विकास अधिकारियों के साथ मिलकर काम करेगी, ताकि प्लेटफॉर्म की विस्तृत पहुंच और सफल क्रियान्वयन सुनिश्चित किया जा सके।

Share On :

Follow us on

Subscribe Here

For More Articles

Releated Articles