बीज-कीटनाशक विक्रेता लायसेंस करेंगे सरेंडर

Share On :

seed-insecticide-seller-will-surrender-license

बीज-कीटनाशक विक्रेता लायसेंस करेंगे सरेंडर

कृषि आदान विक्रेता संघ की बैठक में सरकार को चेतावनी

 

भोपाल। मध्य प्रदेश के 15 हजार बीज और कीटनाशक दवा बेचने वाले कृषि आदान विक्रेताओं ने मध्य प्रदेश सरकार को चेतावनी देते हुए कहा कि कृषि विभाग द्वारा लिए गए पूर्व के सैम्पल जो अमानक निकले हैं उक्त पुराने प्रकरणों को खोलकर दुकानदारों के खिलाफ एफआईआर दर्ज कराई जा रही है अगर विभागीय कार्रवाई का यह सिलसिला शीघ्र अतिशीघ्र नहीं थमा तो पूरे प्रदेश के बीज और कीटनाशक विक्रेता प्रदेशव्यापी आंदोलन करेंगे और अपने लायसेंस मुख्यमंत्री कमलनाथ के समक्ष सरेंडर करेंगे।

गौरतलब है कि म.प्र. कृषि आदान विक्रेता संघ की भोपाल में आपातकालीन बैठक हुई। जिसमें सभी संभाग के अध्यक्ष, उपाध्यक्ष और कार्यकारिणी के सदस्य जो बीज और कीटनाशक दवाओं को विक्रय करते है विक्रेता उपस्थित हुए। बैठक में सभी विक्रेताओं ने विभागीय कार्रवाई के खिलाफ आंदोलन का ऐलान किया। कृषि आदान विक्रेता संघ म.प्र. के अध्यक्ष मानसिंह राजपूत ने बताया कि कंपनियों द्वारा सप्लाई की जाने वाले खाद, बीज और कीटनाशक दवाइयों के सैम्पल विभागीय कार्रवाई के दरम्यान अमानक मिलने पर विक्रेता के खिलाफ कार्यवाही की जाती है, जबकि अमानक दवा सप्लाई करने के प्रमुख दोषी कंपनियां है। कृषि विभाग कार्पोरेट स्तर पर कार्रवाई करने के बजाय प्रायवेट सेक्टर में अधिक कार्रवाई कर रहा है। श्री राजपूत ने कहा कि विभाग द्वारा दो साल पुराने अमानक सैम्पल के प्रकरणों को खोलकर विक्रेताओं के खिलाफ एफआईआर दर्ज करा रहा है जो न्यायोचित नहीं है। श्री राजपूत ने बताया कि बैठक में अन्य गम्भीर विषयों पर भी चर्चा हुई। संघ के राष्ट्रीय अध्यक्ष श्री मनमोहन कलन्त्री के नेतृत्व में एक प्रतिनिधिमंडल केन्द्रीय कृषि मंत्री श्री नरेन्द्र सिंह तोमर से मिलकर खाद-बीज कीटनाशक अधिनियम में संशोधन की मांग करेगा। बैठक का संचालन श्री संजय पाल ने किया एवं आभार प्रदर्शन भोपाल जिलाध्यक्ष श्री राजेश गोयनका ने किया।

Share On :

Follow us on

Subscribe Here

For More Articles

Releated Articles