मध्यप्रदेश में दाल पर मंडी शुल्क छूट जारी रहे

Share On :

mandi-duty-discounts-continue-on-dal-in-madhya-pradesh

इन्दौर। मध्यप्रदेश के बाहर से मंूग, तुअर, उड़द, चना, मसूर, मटर आदि दलहन पर मण्डी शुल्क से छूट की अवधि बढ़ाने के लिए प्रतिनिधि मण्डल भोपाल में मुख्यमंत्री से मिला।

ऑल इंडिया दाल मिल एसोसिएशन का प्रतिनिधि मण्डल मध्यप्रदेश में स्थापित पुरानी दाल मिलों द्वारा मध्यप्रदेश के बाहर से दाल बनाने के लिए मंगाए जाने वाले दलहन, मंूग, तुअर, अरहर, उड़द, चना, मसूर, मटर,, बटरा, बटरी पर मण्डी फीस के भुगतान से छूट की अवधि बढ़ाने के संबंध में अध्यक्ष सर्वश्री सुरेश अग्रवाल, सहसचिव मुन्नालाल बंसल, अनिल गुप्ता, जितेन्द्र जिंदल, अनिल बेताला एवं लव गुप्ता के साथ मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री श्री कमलनाथ से भोपाल में गत सप्ताह मिला।

उक्त जानकारी देते हुए संस्था के अध्यक्ष श्री  अग्रवाल एवं सहसचिव श्री बंसल ने बताया कि म.प्र. के बाहर से प्रसंस्करण हेतु मंगाए जाने वाले दलहन पर मण्डी शुल्क की छूट सरकार ने एक वर्ष के लिए दी थी जो 31 जुलाई 2019 को समाप्त हो रही है, प्रतिनिधि मण्डल ने मुख्यमंत्री से अनुरोध किया कि इसे आगामी 5 वर्ष के लिए बढ़ाया जाना चाहिए। साथ ही प्रतिनिधि मण्डल ने  मुख्यमंत्री को अवगत कराया कि  म.प्र. के बाहर से दाल बनाने हेतु मंगाए जाने वाले कच्चे माल (दलहन) पर मण्डी शुल्क से छूट के कारण ही म.प्र. की दाल इण्डस्ट्रीज अन्य प्रदेशों से कड़ी प्रतिस्पर्धा में भी चल पा रही है। महाराष्ट्र, गुजरात, छत्तीसगढ़ आदि राज्यों में उनके राज्य के बाहर से दलहन-तुअर, उड़द, मूंग, मटर, मसूर, चना आदि खरीदकर दाल बनाने पर मण्डी शुल्क नहीं  लगता है। 

मीटिंग में अवगत कराया कि जी.एस.टी के कारण भी दाल उद्योगों की स्थिति प्रदेश में खराब हो रही है, कुछ ही दाल इण्डस्ट्रीज चल पा रही है, और कुछ अपनी उत्पादन क्षमता से भी कम चल पा रही है। साथ ही मध्यप्रदरेश में मण्डी शुल्क की दर के अन्य प्रांतों की तुलना में अधिक है। 

Share On :

Follow us on

Subscribe Here

For More Articles

Releated Articles