कृषि आदान विक्रेता संघ का प्रतिनिधिमंडल केंद्रीय मंत्रियों से मिला

Share On :

agri-input-distribution-association-meets-union-ministers

इंदौर। गत दिनों अखिल भारतीय कृषि आदान विक्रेता संघ के राष्ट्रीय पदाधिकारियों ने कृषि आदान व्यापार में आ रही समस्याओं के निराकरण हेतु नई दिल्ली में विभिन्न केंद्रीय मंत्रियों से मुलाकात कर ज्ञापन सौंपा। यह जानकारी संघ के राष्ट्रीय प्रवक्ता श्री संजय रघुवंशी उज्जैन ने दी।

मिली जानकारी के अनुसार प्रतिनिधिमंडल में शामिल सदस्यों ने  केंद्रीय रसायन और उर्वरक मंत्री श्री सदानंद गौड़ा को उर्वरक व्यापार में आ रही परेशानियों बाबत ज्ञापन दिया। जिसमें मुख्यत: 50 प्रतिशत एफएमएमएस वाला मार्जिन न मिलने, उर्वरक निर्माताओं द्वारा पूरा एफओआर नहीं दे ने और और यूरिया उर्वरक के साथ अन्य उत्पादों के दबाव जैसे बिंदु शामिल थे। श्री गौड़ा ने समस्याओं को ध्यानपूर्वक सुना और त्वरित कार्रवाई करते हुए संयुक्त सचिव श्री अश्विन सिद्धू को निर्देश दिए कि इस संबंध में जुलाई माह में एक बैठक आयोजित कर इसमें संगठन के राष्ट्रीय अध्यक्ष, सभी राज्यों के संगठन अध्यक्ष, महासचिव, सभी उर्वरक निर्माता और वरिष्ठ कृषि अधिकारियों को आमंत्रित किया जाए। 

प्रतिनिधिमंडल को केंद्रीय जल शक्ति मंत्री श्री गजेंद्र सिंह शेखावत ने मुलाकात के दौरान बताया कि पुराने कीटनाशक विक्रय लायसेंस हेतु प्रस्तावित लघु अवधि (क्रेश कोर्स) संबंधी आदेश के लिए कृषि मंत्री ने सहमति दे दी है। श्री शेखावत के अनुसार प्रस्तावित कीटनाशक प्रबंधन बिल 2018 जल्द ही विचार-विमर्श के लिए लोकसभा में रखा जाएगा। इसके लिए कृषि मंत्रालय द्वारा बनाई गई समिति में श्री पुरुषोत्तम खंडेलवाल का नाम सदस्यों में शामिल करने हेतु भेज दिया है। सदस्यों ने रसायन मंत्री के सचिव श्री विजय रंजन और पौध संरक्षण विभाग के निदेशक श्री राजेश मलिक के अलावा  संगठन को मजबूती देने और राजनीतिक समर्थन हासिल करने के मकसद से सांसदद्वय प्रतिभा गोपीनाथ मुंडे (बीड़) और श्री ओम राजे निम्बालकर (उस्मानाबाद) से भी मुलाक़ात की। जिसमें दोनों ने व्यापारियों की समस्याओं के समाधान में सहयोग करने का आश्वासन दिया। इस प्रतिनिधि मंडल में श्री मनमोहन कलंत्री (महाराष्ट्र), श्री प्रवीणभाई पटेल (गुजरात), श्री हरमेश सिंह (हरियाणा), श्री सुरिंदर सिंह (पंजाब), श्री अशोक मारु निम्बाहेड़ा और पुरुषोत्तम खंडेलवाल (राजस्थान) शामिल थे।

Share On :

Follow us on

Subscribe Here

For More Articles

Releated Articles