रासी ने जीता किसानों का भरोसा

Share On :

rasi-won-the-trust-of-farmers

इंदौर। विगत 45 वर्षों से कपास के उच्च गुणवत्ता वाले उन्नत किस्म बीज उत्पादन करने वाली देश की अग्रणी कम्पनी रासी सीड्स प्रा. लि. ने दो नए उत्पाद पेश किए और किसानों को नकली बीज से बचाने के लिए रासी जेन चेक की नई तकनीक की भी जानकारी दी।

रासी कम्पनी द्वारा जारी प्रेस विज्ञप्ति के अनुसार कम्पनी का उद्देश्य सिर्फ बीज बेचना नहीं, बल्कि किसानों को बेहतर सुझाव देकर उनके उत्पादन को बढ़ावा देना है। इसीलिए रासी की टीम किसानों से साल भर संपर्क कर कार्य करती है। किसानों की पहली पसंद बने रासी 2 उत्पाद के बाद रासी सीड्स ने आरसीएच 659 लांच किया जिसे अच्छा प्रतिसाद मिला। इसके बाद किसानों की जरूरतों को देखते हुए कम्पनी ने कपास की दो नई किस्म रासी नियो और रासी मेगना लांच किए हैं। जहाँ रासी नियो हल्की/ मध्यम जमीन के लिए अच्छी है, वहीँ रासी मेगना भारी/मध्यम ज़मीन के लिए उपयुक्त किस्म है। इनके डेंडू बड़े और वजनदार होते हैं। इनमें रस चूषक कीटों का आक्रमण भी कम होता है। इनकी चुनाई करना भी आसान है। इन किस्मों को लगाकर किसान दूसरी फसल के रूप में गेहूं या डॉलर चना ले सकते हैं।

बीज को लेकर किसानों के साथ होने वाली धोखाधड़ी को देखते हुए रासी सीड्स ने इस साल रासी जेन चेक नामक नई तकनीक का आविष्कार किया है, जिसमें किसान बीज खरीदते समय ही अपने बीज की जाँच कर सकते हैं कि बीज असली है कि नकली। कम्पनी ने पैकेट के ऊपर एक क्यूआर कोड दिया है , जिसे स्क्रेच करने पर 15  अंकों का एक नंबर निकलेगा उसको 8550883366 पर मैसेज करने पर किसान को एक रिटर्न मैसेज मिलेगा जिससे पता चल जाएगा कि खरीदा गया बीज असली है या नकली। इसे गूगल प्ले स्टोर से डाउनलोड किया जा सकता है।

Share On :

Follow us on

Subscribe Here

For More Articles

Releated Articles