हमारा अभियान जहर मुक्त किसान

Share On :

our-campaign-poisoned-free-farmers

गत दिनों ग्रीन ऐश बराखड़ कला में पतंजलि बायो रिसर्च इंस्टीट्यूट के तत्वावधान में जैविक प्रशिक्षण के उपरान्त मूल्यांकन कार्यक्रम का आयोजन किया गया। जिसमें प्रधानमंत्री कौशल विकास योजना के तहत जैविक कृषकों का अलिसमेंट लिया गया। कृषकों को परम्परागत खेती पर पुस्तकें दी एवं नर्सरी का भ्रमण कराया गया। जिसमें अरविन्द अक्षय गौर के फार्म पर पतंजलि किसान समिति के राज्य प्रभारी मुन्नीलाल यादव, जिला प्रभारी गणेश गौर तहसील प्रभारी अक्षय गौर, राजेश गौर, शरद गौर, रमेशचंद मेहरा एवं समस्त जैविक किसान साथीगण उपस्थित हुए जिनका असिसमेंट आर.एस.के.वी.वी. के वैज्ञानिक डॉ. रवि यादव और सलेसर कॉर्डिनेटर श्री नितिन लखेरा ने जैविक कृषक पी.बी.आर.आई., पी.एम.के.बी. वाय. और एन.एस.डी.सी. के संयुक्त तत्वावधान में परीक्षा ली गई जिसमें 27 किसानों ने अपना मूल्यांकन कराया।

इस संयुक्त कार्यक्रम का मुख्य बिन्दु समस्त कृषक 1 एकड़ में स्वयं के जैविक खेती करने का संकल्प लिया गया जिसमें योग के साथ जहर मुक्त किसान और खेती को बढ़ावा देने के लिए प्रेरित किया गया। जिसमें स्वामी रामदेव एवं आचार्य बालकृष्ण के स्वदेशी भारत की परिकल्पना को साकार करने के लिए प्रेरित किया गया।

Share On :

Follow us on

Subscribe Here

For More Articles

Releated Articles