पारिजात ने निखारी बच्चों की प्रतिभा

Share On :

parijat-helps-promote-talent-in-children

सीएसआर की बेहतरीन मिसाल

दिल्ली। आनंद फाउंडेशन और पारिजात ऊर्जा चक्र की तरफ से रचनात्मक लेखन और कथावाचन की कार्यशाला का आयोजन गवर्नमेंट सीनियर सेकेंडरी स्कूल फतेहगढ़ अम्बाला में कराया गया, जिसमें करीबन 200 से अधिक बच्चों ने बढ़-चढ़ कर भाग लिया। कार्यशाला मे 5 विभिन्न स्कूलों के बच्चे मौजूद रहे। इस कार्यक्रम की अधिवेशन संचालक श्रीमती पारो आनंद रही, जो की लेख की दुनिया मे एक जाना माना नाम हैं। विश्व का सबसे लम्बा अखबार बनाने का विश्व रिकॉर्ड भी श्रीमती आनंद के नाम है। इन्होने 11 राज्यों में, 13 भाषाओँ में अखबार प्रकाशित किया जिसमे 3 लाख से भी अधिक  बच्चों ने भाग लिया था। 

श्रीमती आनंद कहानीकार के रूप में भी बच्चों में बहुत प्रसिद्ध है। अम्बाला में चली दो दिन की कार्यशाला में पहला सत्र कथावाचन का था जिसमे श्रीमती पारो आनंद ने बच्चें को अलग-अलग कहानियां सुनाई, जिसे बच्चों ने खूब ध्यान लगा कर सुना और खूब आनंद लिया। दूसरे दिन के सत्र में रचनात्मक  लेखन के ऊपर था। इस पूरी कार्यशाला में बच्चों का उत्साह देखने लायक था। कार्यक्रम में जाटवर गांव की एस.एम.सी की प्रधान श्रीमती उषा रानी  ने और आनंद फाउंडेशन की सदस्य श्रीमती नताशा  ने भी शिरकत की। श्रीमती उषा रानी  ने कहा कि पारिजात ऊर्जा चक्र बच्चों और गांव की भलाई के लिए जो भी कार्य कर रहा है वे सभी सराहनीय हैं। बच्चों में विभिन्न तरह की प्रतिभाओं को निखारने का कार्य काबिले तारीफ है।

Share On :

Follow us on

Subscribe Here

For More Articles

Releated Articles