डाकिए के पास से बिना बँटी 17 बोरे डाक सामग्री जब्त

Share On :

seized-17-sacks-of-postage-without-distributed-documents

इंदौर। मोबाइल के इस जमाने में भी सुदूर गांवों में आज भी डाक विभाग की अहमियत कायम है। ग्रामवासियों को अपनी डाक का बेसब्री से इंतजार रहता है। जिनमें अखबार सहित कई जरुरी दस्तावेज शामिल होते हैं। लेकिन जब महत्वपूर्ण डाक संबंधित तक नहीं पहुंचने की शिकायत लगातार मिले तो उस पर कार्रवाई जरुरी है। रतलाम जिले के पिपलोदा उप डाकघर से सम्बद्ध शाखा डाकघर बड़ायला माताजी का ऐसा ही एक मामला गत दिनों सामने आया है, जहां विभागीय आकस्मिक निरीक्षण के दौरान डाकपाल के पास से 17 बोरे डाक सामग्री जब्त की गई है।
 
 
इस बारे में ग्राम बड़ायला माताजी के उन्नत किसान श्री कैलाश चंद्र पटेल ने कृषक जगत को बताया कि गांव के शाखा डाकपाल समरथ चांगेशा द्वारा लम्बे अर्से से डाक का वितरण नहीं किया जा रहा था। इससे नाराज लोगों द्वारा डाक विभाग में गोपनीय शिकायत की गई। इसके बाद जावरा के निरीक्षक डाकघर श्री एस. वसुनिया द्वारा गत दिनों यहां आकस्मिक निरीक्षण किया गया। जिसमें डाकपाल समरथ चांगेशा के पास से 17 बोरे बिना बंटी डाक सामग्री जब्त कर ग्रामवासियों की मौजूदगी में पंचनामा बनाया गया। 
 
जब्त डाक सामग्री में गांव वालों के अखबार, आधार कार्ड, रजिस्ट्री, एटीएम कार्ड, स्पीड पोस्ट और अन्य डाक सामग्री शामिल थी। बड़ी संख्या में बिना बटीं डाक देखकर निरीक्षणकर्ता और गांव वाले हैरान रह गए। स्मरण रहे कि कृषक जगत अपने सम्मानीय ग्राहकों को उनकी प्रति नहीं मिलने पर संबंधित डाक घर में अपनी शिकायत करने का आग्रह करता रहा है।
 
इस बारे में जावरा के निरीक्षक डाकघर श्री एस. वसुनिया ने बताया कि निरीक्षण के पश्चात अपना प्रतिवेदन आगामी कार्रवाई के लिए वरिष्ठ अधिकारी रतलाम को प्रेषित किया गया है।
Share On :

Follow us on

Subscribe Here

For More Articles

Releated Articles