अस्पी एलएम पटेल - फार्मर ऑफ द ईयर अवॉर्ड 2017

Share On :

aspee-lm-patel---farmer-of-the-year-award-2017

प्रगतिशील चाय उत्पादक राजेश दत्ता

बागवानी श्रेणी में अस्पी अवॉर्ड के लिए संयुक्त रूप से चुने गए श्री राजेश कुमार दत्ता सफल चाय उत्पादक किसान हैं, प्रेरक उद्यमी हैं, कुशल व्यवसायी हैं। आसाम के शिवसागर जिले के नोमती नोहोलिया गांव के श्री राजेश दत्ता कॉलेज की पढ़ाई पूरी करने के बाद खेती में कूद पड़े। अपनी सवा तीन हेक्टेयर भूमि में आप 3 हेक्टेयर में चाय की खेती करते हैं। 44 वर्षीय युवा कृषक राजेश के पास 4 गाय हैं जिससे उन्हें अतिरिक्त आमदनी मिलती है। उनका खेत आधुनिक कृषि यंत्रों, चाय पत्ती तुड़ाई मशीन, कीटनाशक स्प्रेयर से सुसज्जित है। आपके पास पत्ती ढुलाई के लिए ट्रक भी है। राजेश खेती का हिसाब-किताब बराबर रखते हैं और इसके लिए सारे जरूरी रजिस्टर मेंटेन करते हैं जिससे मजूरी हाजिरी रजिस्टर, इनपुट रिकॉर्ड और उत्पादकता के आंकड़ों को भी सहेजा जाता है।

चाय बागानों में जरूरी छायादार पेड़ भी लगाए हैं। 1 हेक्टेयर में लगभग 46 पेड़ हैं। आपके खेत की चाय उत्पादकता 12 से 16 टन प्रति हेक्टेयर है और बाजार में प्रति क्विंटल भाव आपको 2400 से 2700 रु. प्रति क्विंटल मिलता है। आप पत्ती ढुलाई के लिए अपना ट्रक किराए पर अन्य किसानों को भी दे देते हैं जिससे अतिरिक्त आमदनी हो जाती है। इस प्रकार अस्पी अवार्डी श्री राजेश दत्ता अपनी लागत से दूना कमा लेते हैं।


 

Share On :

Follow us on

Subscribe Here

For More Articles

Releated Articles