किसान आदान खरीदी एवं फसल बिक्री करेंगे मोबाईल एप से

Share On :

farmers-will-buy-and-purchase-crop-from-mobile-app

किसान आदान खरीदी एवं फसल बिक्री करेंगे मोबाईल एप से 

मार्कफेड की किसान समृद्धि योजना का शुभारंभ

मोबाईल पर कैसे होगी कृषि आदान की खरीद?

  • विपणन संघ के समृद्धि एप पर कृषि आदान (खाद, बीज, कृषि उपकरण, कीटनाशक, अन्य) का चयन।

  • आवश्यकतानुसार आदान का चयन।

  • क्रय की जाने वाली मात्रा का पंजीकरण।

  • किसान के नाम पते एवं अन्य जानकारी का पंजीकरण।

  • प्राथमिक विपणन सहकारी समिति, प्राथमिक कृषि साख सहकारी समिति अथवा किसान समृद्धि केन्द्र में से किसी एक का क्रय स्थान के रूप में चयन।

भोपाल। मप्र शासन की किसानों की आर्थिक उन्नति एवं कृषि विकास की मंशा को साकार करने के लिए मप्र राज्य सहकारी विपणन संघ द्वारा किसान समृद्धि योजना का शुभारंभ किया गया। इस योजना के मुख्य अतिथि डॉ गोविंद सिंह सहकारिता मंत्री मप्र एवं विशिष्ट अतिथि श्री सचिन यादव कृषि मंत्री थे। इस अवसर पर सहकारिता विभाग के प्रमुख सचिव श्री अजीत केसरी, आयुक्त श्री केदार शर्मा, मंडी बोर्ड के प्रबंध संचालक श्री फैज अहमद किदवई, मार्कफेड की प्रबंध संचालक श्रीमती स्वाति मीणा नायक, सचिव श्री पीके सिद्धार्थ एवं वरिष्ठ अधिकारीगण उपस्थित थे। कार्यक्रम में सहकारी समितियों के अध्यक्ष, सदस्य एवं उर्वरक कंपनियों के प्रतिनिधिगण भी उपस्थित थे।  डॉ गोविंद सिंह ने सहकारिता क्षेत्र से अपने राजनैतिक जीवन की शुरुआत का जिक्र  करते हुए कहा कि सरकार का प्रयास है कि प्राथमिक सहकारी समितियों को प्रभावी बनाया जाये तथा आर्थिक कारणों से बंद समितियों को कार्यशील बनाया जाये। समितियों को पुर्नजिवित करने के लिए मार्कफेड के किसान समृद्धि कार्यक्रम की उन्होंने सराहना की। श्री सचिन यादव ने कहा कि कृषि एवं सहकारिता एक ही सिक्के के दो पहलू हैं। कृषि के हर क्षेत्र में समितियों का विशेष महत्व है। उन्होंने कहा कि नौजवान कृषकों को नई तकनीक के  माध्यम से साधन मिले तो कृषि क्षेत्र में निश्चित ही प्रगति होगी। 

एग्री व्यापार एप से किसान कैसे बेचेगा फसल?

  • किसान द्वारा सोसायटी से लिंक होकर पंजीकरण।

  • किसान द्वारा बेचे जाने वाली फसल का विवरण मात्रा, गुणवत्ता और आपूर्ति समय सीमा के साथ पंजीकरण।

  • मार्कफेड द्वारा ई-नाम पर विपणन एवं नीलामी प्रक्रिया।

  • नीलामी प्रक्रिया से प्राप्त मूल्य की सूचना एसएमएस द्वारा किसानों को।

  • किसान द्वारा स्वीकृति की स्थिति में अंतिम सौदा।

  • मार्केटिंग सोसायटी के माध्यम से फसल संग्रहण।

  • फसल प्रदाय एवं ऑनलाइन भुगतान।

श्रीमति स्वाति मीणा नायक ने अपने स्वागत उद्बोधन में कहा कि कृषि व्यवसाय में नवीन तकनीक को समाहित करते हुए विपणन संघ द्वारा किसान समृद्धि कार्यक्रम प्रारंभ किया जा रहा है। इस कार्यक्रम में फसल बुवाई को तैयारी से लेकर फसल के उचित मूल्य पर विक्रय तक के खेती के दो महत्वपूर्ण आयामों को मोबाईल एप्लीकेशन द्वारा एक व्यवस्थित प्लेटफार्म उपलब्ध कराया जायेगा। फसलों के उत्तम बाजार मूल्य के लिये एग्री व्यापार मोबाइल एप तथा कृषि आदानों की खरीदी के लिये किसान समृद्धि मोबईल एप उपलब्ध होगा। साथ ही किसान समृद्धि केंद्रों के माध्यम से विपणन समितियों को जोड़कर किसानों के लिये एक व्यवस्थित रिटेल नेटवर्क उपलब्ध कराया जायेगा।

Share On :

Follow us on

Subscribe Here

For More Articles

Releated Articles