किसानों को फसल ऋण माफी के बाद दिये जाएंगे उन्नत बीज

Share On :

advanced-seeds-will-be-given-to-farmers-after-crop-loan-waiver

किसानों की आय दोगुनी करने की रणनीति कार्यशाला

भोपाल। सहकारिता मंत्री डॉ. गोविन्द सिंह ने कहा है कि अब किसान भाइयों को राहत एवं आर्थिक समृद्धि के लिए बड़े पैमाने पर उन्नत बीज प्रदाय किये जाएंगे। इसके लिए राज्य सहकारी बीज उत्पादक एवं विपणन संघ जैसी प्रतिष्ठित संस्थाओं को और अधिक गतिशील बनाया जाएगा। डॉ. सिंह यहां सहकारी प्रबंध संस्थान में किसानों की आय दोगुनी करने की रणनीति पर आयोजित एक दिवसीय कार्यशाला को संबोधित कर रहे थे।

डॉ. गोविन्द सिंह ने कहा कि किसान भाइयों को जिंदगी भर कर्ज की स्थिति में रहने की विवशता से उबारा जाएगा। किसानों की ऋण माफी इस दिशा में एक सार्थक कदम है। अगला कदम किसान भाइयों की आर्थिक समृद्धि है। उन्होंने कहा कि उन्नत बीज से किसान लाभान्वित होंगे। डॉ. सिंह ने बताया कि करीब 85 प्रतिशत किसान सीमांत और लघु श्रेणी के हैं। इनके पास दो हेक्टेयर से कम भूमि है। उन्होंने कहा कि सहकारी क्षेत्र में बीज उत्पादक एवं विपणन संघ को बीज ग्रेडिंग और आपूर्ति का जिम्मा देकर गतिशील बनाया जाएगा। किसानों को मुर्गी पालन, मत्स्य-पालन, खाद्य प्र-संस्करण जैसे व्यवसाय से आमदनी बढ़ाने में सहकारी क्षेत्र पूरा सहयोग करेगा। 

डॉ. सिंह ने वर्ष 2022 तक किसानों की आय दोगुनी करने के केन्द्र सरकार के कार्यक्रम को घोषणा के स्तर से आगे ठोस धरातल पर उतारने की जरूरत बताई।

कार्यशाला में कृषि और सहकारिता विभाग के अधिकारी नाबार्ड, सहकारी बैंक प्रबंधन, कृषक, कृषि विशेषज्ञ और विद्यार्थी बड़ी संख्या में   उपस्थित थे।

Share On :

Follow us on

Subscribe Here

For More Articles

Releated Articles