माहो कीट के कारण गोभी वर्गीय फसलों में हानि हो रही है। माहो कीट की प्रमुख पहचान लिखें तथा नियंत्रण के उपाय भी बतायें।

Share On :

due-to-insect-pests--there-is-a-loss-in-cauliflower-crops-write-a-key-identification-of-maho-insect-

समाधान- माहो कीट को फसलों का दुश्मन कहें तो अतिश्योक्ति नहीं होगी। खाद्यान्न, तिलहनी फसलों के अलावा गोभी वर्गीय सब्जी फसलों पर भी इसका आक्रमण होता है। इसकी पहचान मुलायम शरीर वाले नारंगी रंग के छोटे-छोटे शिशु के रूप में पत्तियों पर चिपके रहते हैं और रस चूसकर  पौधों को मिलने वाले पोषक तत्वों का बंटवारा करता रहता है। बड़े होने पर ये भूरे, काले रंग के हो जाते हैं। सरसों जैसी फसल पर तो ये अंकुरण से लेकर कटाई तक पलते-पुसते रहते हैं और गम्भीर हानि पहुंचाते हैं। इनके नियंत्रण के लिये निम्न उपाय करें।

  • मिथाइल डेमेटान 25 ई.सी. एक लीटर या डायमिथिएट 30 ई.सी. एक लीटर या मैलाथियान 50 ई.सी. एक लीटर 500 लीटर पानी में घोल बनाकर 10 दिनों के अंतर से दो छिड़काव करें तथा समय-समय पर दोहरायें।

 - जयशंकर वर्मा, सिवनी

Share On :

Follow us on

Subscribe Here

For More Articles

Releated Articles