सीआईएई ने मनाया स्थापना दिवस

Share On :

cei-celebrates-establishment-day

भोपाल। भा.कृ.अनु.प.-केन्द्रीय कृषि अभियांत्रिकी संस्थान, नबीबाग भेापाल द्वारा 44वां स्थापना दिवस का दो दिवसीय कार्यक्रम 15 एवं 16 फरवरी 2019 को आयोजित किया गया। 

कार्यक्रम के दूसरे दिन कृषक संगोष्ठी, कृषि यंत्र प्रदर्शनी (एग्री टेक एक्सपो) एवं कृषि यंत्र निर्माताओं से परिचर्चा आयोजित की गई। कृषक संगोष्ठी को संबोधित करते हुए केन्द्रीय कृषि अभियांत्रिकी संस्थान के निदेशक, डॉ. के.के. सिंह ने बताया कि संस्थान ने बहुत सारे नवीन कृषि यंत्रों का विकास और उनका प्रचार-प्रसार भी किया है। इसके साथ ही संस्थान द्वारा कृषि यंत्र निर्माण की नई तकनीक कृषि यंत्र निर्माताओं को देकर आधुनिक कृषि यंत्र किसानों को उपलब्ध कराये हैं। इस कृषक संगोष्ठी एवं प्रदर्शनी के माध्यम से नये कृषि यंत्रों की जानकारी कृषकों तक पहुॅंचाई जा रही है। श्री जे.आर. नरवरे, निदेशक, केन्द्रीय फार्म मशीनरी प्रशिक्षण व परीक्षण संस्थान, बुदनी कार्यक्रम के मुख्य अतिथि थे। 

कृषक जगत के विभिन्न प्रकाशनों का अवलोकन करते हुए श्री जे.आर. नरवरे, निदेशक, केन्द्रीय फार्म मशीनरी प्रशिक्षण व परीक्षण संस्थान, बुदनी एवं महिन्द्रा एंड महिन्द्रा के श्री एस.ओ. त्यागी हेड गवर्नमेंट लाइजनिंग।

उन्होंने कहा कि आज देश को ट्रैक्टर के अलावा नए कृषि यंत्रों की भी आवश्यकता है। कृषि यंत्र प्रदर्शनी में 40 स्टॉल कृषि यंत्र निर्माताओं द्वारा लगाये गये। कृषि यंत्र निर्माताओं ने अपने आधुनिक एवं उन्नत कृषि यंत्रों का सजीव प्रदर्शन किया जिसे लगभग 2000 कृषकों द्वारा सराहा गया। महिन्द्रा एण्ड महिन्द्रा के हेड गवर्नमेंट लाइजनिंग श्री एस. ओ. त्यागी, कृषि यंत्र निर्माता संघ के अध्यक्ष श्री अभय मलैया, संयुक्त संचालक कृषि अभियांत्रिकी विभाग श्री पी.एस. श्याम ने भी संगोष्ठी को संबोधित किया। 

प्रदर्शनी में प्रमुख कृषि यंत्र निर्माता

महिन्द्रा एण्ड महिन्द्रा, एस्कॉर्टस, आयशर, जॉन डियर, स्वराज, न्यू हॉलैण्ड, कुबोटा, तीर्थ एग्रो, लालवानी इण्डस्ट्रीज, समर्थ समूह, धनलक्ष्मी, गंगा, नेटाफिम, प्रीमियर एग्रीटेक, रिलायंस फाउंडेशन, स्वामी इंटरप्राइजेज। 

 

एस्कार्ट्स के स्टॉल पर डॉ.एस.पी. पाण्डे हेड इंप्लीमेंट सेल्स, श्री नीतेश सचान डिप्टी सेल्स चीफ

प्रौद्योगिकी हस्तांतरण प्रभाग के प्रमुख डॉ. पी.सी. बरगले द्वारा कार्यक्रम का संयोजन एवं धन्यवाद प्रस्ताव प्रस्तुत किया गया।
 

Share On :

Follow us on

Subscribe Here

For More Articles

Releated Articles