मंडी में अनाज के बोरे पर बैठकर अपर कलेक्टर ने सुनी किसानों की समस्याएं

Share On :

sitting-on-a-grain-sack-in-mandi--additional-collector-listened-to-problems-of-farmers

इंदौर। मंडी भारसाधक अधिकारी एवं अपर कलेक्टर श्री कैलाश वानखेड़े ने हाल ही में इंदौर की लक्ष्मी बाई अनाज मंडी में औचक निरीक्षण कर मण्डी की व्यवस्थाओं को देखा। श्री वानखेड़े ने केन्टीन में किसानों को दिया जाने वाला भोजन खुद खाकर जांचा, वहीं मंडी में नीलामी स्थल पर अनाज के बोरे पर बैठ कर किसानों की बातों को सुना और फिर मंडी प्रांगण का निरीक्षण किया। इस मौके पर किसानों ने अपनी समस्याएं बताते हुए कहा कि शासन के नियमानुसार व्यापारी 10  हजार रूपये भी नगद नही दे रहें है। आरटीजीएएस करने में भी व्यापारी 3 से लेकर 6 दिन तक का समय लगा रहें हैं। केन्टीन में सिर्फ 20 से 30 किसानों के बैठने की जगह है। कृषक भवन वर्षो से बंद है उसे कृषकों के बैठने के लिए खोला जाए। इस पर  अपर कलेक्टर श्री वानखेड़े ने  कृषक भवन  की तत्काल सफाई कर दो दिन में खोलने के निर्देश मंडी सचिव को दिए।

अपर कलेक्टर ने मंडी में किसानों को खेती संबंधी जानकारी देने, पुस्तकालय खोलने, मनोरंजन की व्यवस्था करने के लिए व्यापक योजना बनाने के लिए मंडी सचिव को  कहा गया।

Share On :

Follow us on

Subscribe Here

For More Articles

Releated Articles