आत्मा गवर्निंग बोर्ड की बैठक में नवाचार घटकों पर हुई चर्चा

Share On :

discussion-on-innovation-components-in-the-meeting-of-spirit-governing-board

इंदौर। गत दिनों आत्मा गवर्निंग बोर्ड की बैठक कलेक्टर सभा कक्ष में आयोजित की गई। अध्यक्षता इंदौर कलेक्टर श्री लोकेश कुमार जाटव ने की। इस बैठक में आत्मा योजना के तहत किए जा रहे नवाचार घटकों की गतिविधियों पर विस्तार से चर्चा की गई।

कलेक्टर श्री जाटव ने कहा कि इंदौर जिले में करीब दस लाख आबादी गांव में रहती है। गांव के विकास से देश का विकास होगा। गांवों में स्वरोजगार के लिये कृषकों की आय बढ़ाना जरूरी है। इसके किसानों को परम्परागत खेती के अलावा कुछ अन्य कार्य करने होंगे। कलेक्टर ने जिले में मधुमक्खी पालन, मशरूम उत्पादन, कड़कनाथ, अजोला हरी घास, शहद उत्पादन, और दूध डेयरी उद्योग को बढ़ावा देने पर जोर दिया, क्योंकि कृषि आधारित उद्योगों में लागत बहुत कम आती है। इससे किसानों का गांवों से पलायन रुकेगा।

बैठक में आत्मा परियोजना संचालक श्रीमती शर्ली थॉमस ने बताया कि इंदौर विकासखंड के ग्राम सनावदिया के कृषक श्री रोहन टिलोटिया द्वारा परियोजना में प्रशिक्षण प्राप्त करने के बाद 7  माह में मधुमक्खी के 50 बक्सों से 16  हजार रुपए का शहद उत्पादित किया जा चुका है। इसके अलावा सूरजमुखी, अरहर और प्याज आदि अन्य फसलों में 25 फीसदी वृद्धि के साथ 4  लाख रुपए से अधिक की आय हुई है। इसी तरह सांवेर विकासखंड के ग्राम पालकांकरिया के किसान श्री प्रवीण यादव द्वारा की जारी आयस्टर मशरूम की खेती से उन्हें प्रति किलो 110 रुपए की अतिरिक्त आय होने की भी जानकारी दी गई। जिला पंचायत सीईओ सुश्री नेहा मीणा ने मधुमक्खी पालनकर्ता और मशरूम उत्पादक की प्रशंसा की गई। इसी बैठक में अजोला उत्पादन और हाइड्रोपोनिक्स के नवाचार घटकों पर भी विस्तार से प्रकाश डाला गया। बैठक में कृषि, उद्यानिकी, मत्स्योद्योग, सहायक कृषि यंत्र आदि विभागों में जारी योजनाओं से बोर्ड सदस्यों को अवगत कराया गया। इस अवसर पर उप संचालक कृषि श्री विजय चौरसिया,उप संचालक उद्यानिकी श्री त्रिलोकचंद वास्कले, गवर्निंग बोर्ड के कृषक प्रतिनिधि श्री हरिराम सोलंकी, श्री जितेन्द्र बाजडोलिया,श्रीमती सीमा पटेल आदि उपस्थित थे।
 

Share On :

Follow us on

Subscribe Here

For More Articles

Releated Articles