ठिठकी हुई गन्ने की उत्पादकता

Share On :

productivity-of-the-heavy-sugarcane

गन्ना देश की एक प्रमुख नगदी फसल है। देश में वर्ष 2017-18 में इसकी खेती 47.74 लाख हेक्टेयर में ली गई थी। गन्ना उत्पादन में उत्तर प्रदेश सबसे अग्रणी है। यहां वर्ष 2017-18 में इसकी खेती 22.34 लाख हेक्टेयर में ली गई थी। उत्तर प्रदेश के बाद महाराष्ट्र तथा कर्नाटक का स्थान आता है जहां इसकी खेती पिछले वर्ष क्रमश: 9.02 व 3.70 लाख हेक्टेयर में ली गई थी। इन तीन प्रदेशों में गन्ने की खेती वर्ष 2017-18 में 35.06 लाख हेक्टेयर में ली गई थी जो पूरे देश में गन्ने के क्षेत्र का 73.43 प्रतिशत होता है। यदि इसमें बिहार के गन्ने के क्षेत्र 2.43 लाख हेक्टेयर को भी सम्मिलित कर लिया जाये तो गन्ने के कुल क्षेत्र का 78.53 प्रतिशत तक पहुंच जाता है। मध्य क्षेत्र के तीन राज्यों मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ तथा राजस्थान में गन्ने का क्षेत्र क्रमश: 9830 तथा 5 हजार हेक्टेयर ही है। तीनों राज्यों का वर्ष 2017-18 का गन्ने का कुल क्षेत्र 1.33 लाख हेक्टेयर ही है जो देश के गन्ने के कुल क्षेत्र का मात्र 2.78 प्रतिशत ही है।  मध्य प्रदेश में वर्ष 2014-15 में गन्ने की खेती 1.11 लाख हेक्टेयर क्षेत्र में ली गई थी। पिछले कुछ वर्षों में मध्य प्रदेश में गन्ने के क्षेत्र में कमी आ रही है जो एक चिन्ता का विषय है। छत्तीसगढ़ में गन्ने के क्षेत्र में निरन्तर वृद्धि हो रही है। इस प्रदेश में जहां वर्ष 2013-14 में गन्ने का क्षेत्र मात्र 9 हजार हेक्टेयर था वह वर्ष 2015-16 में बढ़कर 36 हजार हेक्टेयर तक पहुंच गया और वर्ष 2017-18 में इसकी खेती 30 हजार हेक्टेयर में की गई। राजस्थान में गन्ने का क्षेत्र 5 से 7 हजार हेक्टेयर के बीच ही रहता है। मध्य प्रदेश व छत्तीसगढ़ की जलवायु गन्ना उत्पादन के उपयुक्त है, इसके क्षेत्र व उत्पादन बढऩे के उपाय करने चाहिए। मध्य प्रदेश व छत्तीसगढ़ में गन्ने की उत्पादकता क्रमश: 55.4 व 41.6 टन प्रति हेक्टेयर है, जबकि केरल की उत्पादकता दोनों राज्यों की उत्पादकता से दुगने से भी अधिक 116.2 टन प्रति हेक्टेयर है। गन्ना उत्पादक प्रमुख राज्यों उत्तर प्रदेश, महाराष्ट्र, कर्नाटक व बिहार की उत्पादकता क्रमश: 72.7, 80.5, 80.8 व 67.9 टन प्रति हेक्टेयर है। देश की गन्ने की औसत उत्पादकता 67.43 टन प्रति हेक्टेयर है। जबकि कोलंबिया की 85.96 मेक्सिको की 78.16, थाईलैंड की 75.47, ब्राजील की 75.17 तथा फिलीपीन्स की 73.21 टन प्रति हेक्टेयर है। देश व प्रदेश में उत्पादकता बढ़ाने के बहुत अच्छे अवसर हैं। हमें सीओ 0238 जैसी उन्नत जातियों का बीज गन्ना किसानों को उपलब्ध कराने के लिए युद्ध स्तर पर प्रयास करने होंगे। गन्ने की कम उत्पादकता वाले क्षेत्रों व राज्यों में उत्पादकता बढ़ाने के लिए किसानों को गन्ने के प्रबंधन पर प्रशिक्षण देना होगा।

Share On :

Follow us on

Subscribe Here

For More Articles

Releated Articles