कद्दू की खेती के लिये बुआई के समय व खाद आदि की जानकारी दें।

Share On :

provide-information-about-sowing-of-timber-and-manure-for-cultivation-of-pumpkin

  • ग्रीष्म ऋतु में कद्दू लेने के लिये आपको बीज जनवरी, फरवरी में बोना होगा।
  • थाले के लिये 30&30&30 (गहरा, लंबा, चौड़ा) से.मी. आकार के गड्ढे तैयार कर इसमें गोबर खाद, स्फुर तथा पोटाश मिट्टी में मिला कर भर लें। प्रत्येक थाले में 3-4 बीज बोएं। अंकुरण के बाद दो स्वस्थ पौधे रखकर अन्य को उखाड़ दें। पॉलीथिन के लिफाफों में भी पौध तैयार कर रोपणी कर सकते हैं।
  • कद्दू के लिये 200 क्विंटल गोबर खाद, 100 किलो नत्रजन, 50 किलो स्फुर व 50 किलो पोटाश प्रति हेक्टर की आवश्यकता होती है। गोबर खाद स्फुर व पोटाश बुआई के पूर्व गड्ढों में भरे नत्रजन की मात्रा को तीन भागों में बांट लें। पहली मात्रा पौधे उगने के 10-15 दिन बाद, दूसरी एक माह बाद तथा तीसरी फूल आने पर पौधों से कुछ दूरी पर दें। अधिक उपज के लिये जब पौधे 2-4 पत्ती के हो जाये तो एथरेल के 250 पी.पी.एम. (2.5 ग्राम प्रति 10 लीटर पानी) घोल का छिड़काव करें। इससे मादा फूलों की संख्या बढ़ेगी।

- विमल पाटीदार, गुना

Share On :

Follow us on

Subscribe Here

For More Articles

Releated Articles