कृषि आदान विक्रेताओं का संभागीय सम्मेलन हुआ

Share On :

divisional-conference-of-agricultural-exchangers

रतलाम। गत दिनों रतलाम में देश भर से एकत्रित हुए कृषि आदान विक्रेताओं का संभागीय सम्मेलन आयोजित किया गया जिसमें व्यावसायिक चुनौतियों, संगठन की शक्ति के साथ ही अन्य बिंदुओं पर विचार किया गया।

इस प्रथम संभागीय कृषि आदान विक्रेता सम्मेलन में बड़ी संख्या में उपस्थित प्रतिनिधियों ने अपनी लंबित मांगों को मार्च 2019 तक पूरा नहीं किए जाने पर भारत बंद चेतावनी दी गई। कार्यक्रम की अध्यक्षता कर रहे राष्ट्रीय अध्यक्ष श्री मनमोहन कलंत्री ने जानकारी दी कि कृषि आदान विक्रेताओं को अब दो वर्ष का डिप्लोमा कोर्स के बजाय 72 घंटे का क्रेश कोर्स करने पर आजीवन लायसेंस का नवीनीकरण हो जाएगा। संगठन की कोशिशों से यूरिया का डीलर मार्जिन 180  से बढ़ाकर 354 कर दिया गया है। कार्यक्रम के मुख्य अतिथि रतलाम विधायक श्री चेतन काश्यप ने समस्याओं के समाधान में सहयोग देने की बात कही।

सम्मेलन में खाद बीज की सेम्पलिंग में विक्रेताओं को सीधे आरोपी न बनाकर गवाह बनाने की मांग की गई, क्योंकि विक्रेता निर्माता नहीं है। सम्मेलन को विशेष अतिथि और मध्य प्रदेश अध्यक्ष श्री मानसिंह राजपूत ने संगठन की सक्रियता और सजगता पर जोर दिया। राजस्थान प्रदेश अध्यक्ष श्री पुरुषोत्तम खंडेलवाल,राष्ट्रीय महासचिव और गुजरात अध्यक्ष श्री प्रवीण पटेल और राष्ट्रीय प्रवक्ता श्री संजय रघुवंशी, जिला अध्यक्ष श्री रमेश गर्ग ने भी सम्बोधित किया। स्वागत भाषण श्री हंसराज चोपड़ा ने दिया।

Share On :

Follow us on

Subscribe Here

For More Articles

Releated Articles