पुरानी तौल व्यवस्था लागू करने की मांग

Share On :

demand-for-implementing-old-weighing-system

इंदौर। गत 1 जनवरी से इंदौर की दोनों कृषि उपज मंडियों में  50 किलो के बारदान में उपज तौलने की व्यवस्था लागू की गई है जिसका भारतीय किसान यूनियन ने विरोध करते हुए एक क्विंटल वाली पुरानी तौल व्यवस्था लागू करने की मांग वाला ज्ञापन कृषि मंत्री श्री सचिन यादव को दिया है।

इस बारे में किसान यूनियन के इंदौर जिला अध्यक्ष श्री बबलू सिंह जाधव ने बताया कि इस नई व्यवस्था से किसानों को कई परेशानियां आएंगी। उन्होंने कहा कि कृषि उपज 50 किलो के बारदान में तौलने पर हम्माली/तुलाई दरों में 2 रुपए क्विंटल का अंतर होने से हर किसान को 60 से 70 रुपए प्रति ट्रॉली की आर्थिक हानि होगी। उधर व्यापारियों के पास 50 किलो के बारदान (कट्टे) पर्याप्त मात्रा में उपलब्ध नहीं होने से कई बार मंडी बंद करने की स्थिति निर्मित हो सकती है। इसलिए कृषक वर्ग की मांग है कि कृषि उपज की तौल पूर्व की भांति 100 किलो के बारदान में तौल व्यवस्था लागू करें इसके अलावा किसान यूनियन ने मंडी सचिव, इंदौर को पत्र लिखकर मंडी किसानों के वाहनों का प्रवेश शुल्क बंद करने की भी मांग की है, क्योंकि इस कारण 

Share On :

Follow us on

Subscribe Here

For More Articles

Releated Articles