पारिजात ग्रामीण समाज के विकास के लिए प्रतिबद्ध

Share On :

committed-to-the-development-of-the-transitional-rural-society

नई दिल्ली। सामाजिक दायित्व (सीएसआर) एक विश्वव्यापी अवधारणा है, जिसे वैश्विक स्तर पर स्वीकार एवं प्रयोग किया जाता है। सीएसआर गतिविधियां किसी कम्पनी की सामाजिक एवं पर्यावरण संबंधी गतविधियों को उसके व्यावसायिक उद्देश्यों एवं मूल्यों के साथ संरेखित करती हैं।

सामाजिक रूप से जिम्मेदार एक  कार्पोरेट नागरिक होने के नाते पारिजात इंडस्ट्रीज इंडिया प्रा.लि. ने विभिन्न सामुदायिक परियोजनाओं से विभिन्न क्षेत्रों के समुदायों को प्रभावी रूप से लाभ पहुंचाया है। पारिजात इंडस्ट्रीज की सीएसआर गतिविधियां दर्शाती हैं कि कम्पनी अपनी प्रत्येक परियोजना के माध्यम से समुदायों को लाभान्वित करने के लिए प्रतिबद्ध है। पारिजात इंडस्ट्रीज का सीएसआर विजन दीर्घकालिक, समाधान प्रदान करके समुदायों के सामाजिक, सांस्कृतिक तथा आर्थिक विकास में निरंतर सक्रिय योगदान करना है।

पारिजात द्वारा की गई सामाजिक पहलें शिक्षा, रोजगार सृजन, कृषि, पर्यावरण, स्वास्थ्य एवं स्वच्छता, ग्रामीण विकास, खेलकूद तथा अमूर्त सांस्कृतिक विरासत के क्षेत्रों में है। पारिजात इंडस्ट्रीज अपनी सामाजिक जिम्मेदारियों का निर्वाहन अपने सामाजिक संगठन पारिजात ऊर्जा चक्र तथा आनंद फाउंडेशन के माध्यम से संचालित कर रही है।

पारिजात ऊर्जा चक्र 

पारिजात ऊर्जा चक्र (पीयूसी) की शुरुआत कई साल पहले की गई थी। इसका उद्देश्य था कि पारिजात इंडस्ट्रीज प्रा.लि. की सीेएसआर पहल के अंतर्गत अम्बाला, हरियाणा के गांवों में शिक्षा, संगीत, खेलकूद एवं कौशल विकास के माध्यम से ग्रामीण बच्चों का समग्र विकास किया जाए। पीयूसी ग्रामीण युवाओं के रोजगार कौशल और व्यक्तित्व को सुधारने के लिए एनआईआईटी फाउंडेशन के साथ मिलकर परियोजनाएं चलाता है। 

कम्प्यूटर प्रशिक्षण

पीयूसी में एक कंप्यूटर प्रशिक्षण केन्द्र है, जो कैरियर तथा नॉन कैरियर दोनों ही तरह के कोर्स संचालित करता है, ताकि जॉब मार्केट में प्रवेश करने वाले ग्रामीण युवाओं को रोजगार कौशल और व्यक्तित्व को बेहतर बनाया जा सके। 

आनन्द फाउण्डेशन (एएफ) की आर्ट इंटर्नशिप, अकादमिक परिवेश के बाहर विद्यार्थियों के विद्वता, अध्ययन एवं विकास के अनुभवों को बेहतर बना रही है।

वृक्षारोपण अभियान

पारिजात इंडस्ट्रीज की सामाजिक पहलें केवल शिक्षा के क्षेत्र में ही काम नहीं करती हंै, बल्कि पर्यावरण को बेहतर बनाने में भी योगदान करती हैं। भारत के विभिन्न क्षेत्रों में प्लांटोलॉजी के साथ मिलकर नियमित वृक्षारोपण अभियान चलाये जाते हैं, इसका नेतृत्व श्रीमती राधिका आनन्द करती हैं। ये अभियान 'फलवान- सभी के लिए फल' मिशन के अंतर्गत चलाये जाते हैं। आज तक 2,25,000 से अधिक पौधे लगाए जा चुके हैं। 

पारिजात कम्पनी समूह विश्व के 70 से अधिक देशों में अन्तर्राष्ट्रीय स्तर की गुणवत्ता वाले एग्रोकेमिकल उत्पाद प्रदान करता है। 

कम्पनी पिछले अनेक वर्षों से गुणवत्तापूर्ण, किफायती, असरदार फसल सुरक्षा रसायन प्रदान कर रहा है तथा वैश्विक साझेदारी करके दुनियाभर के किसानों को सेवाएं प्रदान कर रही है।

Share On :

Follow us on

Subscribe Here

For More Articles

Releated Articles