छात्रों को जैविक खेती प्रशिक्षण

Share On :

छात्रों-को-जैविक-खेती-प्रशिक्षण

नैगवां (कटनी)। शासकीय महाविद्यालय बरही जिला कटनी में स्वामी विवेकानन्द कैरियर मार्गदर्शन योजना के अंतर्गत प्राचार्य डॉ. आर.के वर्मा के मार्गदर्शन में जैविक कृषि पाठशाला नैगवां के संचालक रामसुख दुबे द्वारा जैविक खेती, केंचुआ खाद निर्माण का प्रशिक्षण दिया गया। छात्र-छात्राओं को आत्मनिर्भर एवं स्वावलम्बी बनाने हेतु विभिन्न जैविक खादों एवं कीटनाशक दवाइयों का निर्माण फसलों में उपयोग तथा इनका विक्रय कर कम लागत में अधिक उत्पादन एवं स्वयं का व्यवसाय स्थापित करने की सलाह प्राचार्य द्वारा प्रशिक्षण का शुभारंभ करते हुए छात्रों को दी।

प्रशिक्षण में रामसुख दुबे ने जैविक खेती की आवश्यकता, मिट्टी परीक्षण, बायोगैस संयंत्र, नाडेप टांका खाद, गोबर कम्पोस्ट, केंचुआ खाद, ट्राइकोडर्मा की विस्तृत जानकारी दी गई। इसके साथ गौमूत्र से बीजोपचार, पांचपत्ती काढ़ा, मटका खाद, जीवामृत तथा केंचुआ खाद निर्माण के लिए कचरा तैयार किया जाकर प्रायोगिक प्रदर्शन किया जा रहा है। 

जिसका महाविद्यालय में अध्ययनरत ग्रामीण क्षेत्र के छात्र/छात्रायें अवलोकन कर खेती में जैविक खेती करने हेतु उत्सुक हैं। कार्यक्रम प्रभारी डॉ. एस.एस. धुर्वे द्वारा प्रशिक्षण संपन्न कराया जा रहा है।

Share On :

Follow us on

Subscribe Here

For More Articles

Releated Articles