मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने फसलों की रिकार्ड खरीदी के लिए डॉ. राजेश राजौरा प्रमुख सचिव कृषि की सराहना की और पुष्पगुच्छ भेंट किया।

प्रदेश में 73 लाख टन हुई गेहूं खरीदी

उपार्जन व्यवस्था का मार्गदर्शी दस्तावेज तैयार होगा

भोपाल। मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने प्रदेश में फसलों की खरीदी सफलतापूर्वक पूरा करने क़े लिए मंत्रालय में संबंधित विभागों के अधिकारियों की सराहना की। श्री चौहान ने कहा कि गेहूँ, धान, चना, मूंग, सरसों की खरीदी करना एक चुनौतीपूर्ण कार्य था। विषम परिस्थितियों के बावजूद सफल और शांतिपूर्ण उपार्जन मध्यप्रदेश के लिये बड़ी उपलब्धि है। इस वर्ष 73 लाख टन गेहूं की खरीद की गई है।
श्री चौहान ने प्रदेश में स्थापित आदर्श उपार्जन की व्यवस्था का व्यवस्थित अध्ययन करने और एक मार्गदर्शी दस्तावेज बनाने के निर्देश दिए।
जिलों की मार्केटिंग योजना बनाएं
मुख्यमंत्री ने कहा कि सभी जिलों में कृषि उपज की मार्केटिंग के लिये कार्य योजना बनाएं उन्होंने कहा कि उपार्जन की व्यवस्था को और ज्यादा प्रभावी बनाने के लिये सूचना प्रौद्योगिकी के अधिकाधिक उपयोग के संबंध में विशेषज्ञों की कार्यशाला भी बुलाई जाना चाहिये।
किसानों को मिले 19 हजार 500 करोड़
उल्लेखनीय है कि रबी वर्ष 2018-19 में 96 लाख किसानों से 73.13 लाख मीट्रिक टन गेहूं और 7.33 लाख किसानों से 19.2 लाख मीट्रिक टन चना, मसूर और सरसों का रिकॉर्ड उपार्जन किया गया है। किसानों को 19 हजार 500 करोड़ रूपये की राशि वितरित की गई है।
इस अवसर पर मुख्य सचिव श्री बी.पी.सिंह, कृषि उत्पादन आयुक्त श्री पी.सी. मीणा, प्रमुख सचिव कृषि डॉ. राजेश राजौरा, प्रमुख सचिव खाद्य श्रीमती नीलम शमी राव, प्रमुख सचिव सहकारिता श्री के.सी. गुप्ता, प्रमुख सचिव श्री विवेक अग्रवाल, मंडी आयुक्त श्री फैज अहमद किदवई, भारतीय खाद्य निगम के श्री अभिषेक यादव, नाफेड के श्री अभिषेक सिंह, एनआईसी के अब्राहिम वर्गिस एवं अन्य अधिकारी उपस्थित थे।

www.krishakjagat.org
Share